राजस्थान: हनुमान बेनीवाल की हुंकार, चंपालाल गौड़ की मौत के बाद प्रदर्शन का किया ऐलान

खींवसर विधायक नारायण बेनीवाल भी परिजनों के साथ धरने पर बैठे थे. पिछले 4 दिन से विभिन्न मांगों को लेकर मृतक के परिजन धरने पर बैठे हैं.

राजस्थान: हनुमान बेनीवाल की हुंकार, चंपालाल गौड़ की मौत के बाद प्रदर्शन का किया ऐलान
कयास लगाए जा रहे थे कि बुधवार को वार्ता का कोई ना कोई नतीजा जरूर निकलेगा.

हनुमान तंवर, नागौर: जिले के खींवसर में चंपालाल गौड़ की मौत का थमने का नाम नहीं ले रहा है. बुधवार को प्रशासन के साथ चली मैराथन वार्ता बेनतीजा रही. नागौर सांसद हनुमान बेनीवाल, मृतक के परिजनों और प्रशासन के साथ हुई कई घंटों की बातचीत के बाद भी कोई हल नहीं निकला. आईजी अजमेर रेंज संजीव नर्जरी और प्रशासनिक अधिकारियों के साथ हुई वार्ता बिना किसी नतीजे के ही खत्म हो गई. सांसद हनुमान बेनीवाल ने अब किसी भी वार्ता से इनकार कर दिया है. साथ ही गुरुवार को खींवसर थाने के घेराव की घोषणा की है.

नागौर सांसद हनुमान बेनीवाल और परिजनों की मांग थी कि खींवसर थाना अधिकारी को निलंबित किया जाए लेकिन इस मांग पर आईजी अजमेर रेंज संजीव नर्जरी और प्रशासनिक अधिकारी सहमत नहीं हुए और जिसके बाद ये वार्ता बिना किसी नतीजे के ही खत्म हो गई. आपको बता दें कि खींवसर थाना परिसर में पिछले 4 दिनों से चंपालाल गौड़ की मौत को लेकर धरना प्रदर्शन चल रहा था. सांसद हनुमान बेनीवाल के खींवसर पहुंचने के बाद अजमेर रेंज आईजी संजीव नर्सरी भी खिंवसर पहुंचे और दोनों के बीच बुधवार दोपहर 2:30 बजे से करीब 5 घंटों तक लंबी वार्ता चली लेकिन कोई ठोस नतीजा नहीं निकल पाया.

कयास लगाए जा रहे थे कि बुधवार को वार्ता का कोई ना कोई नतीजा जरूर निकलेगा. सांसद हनुमान बेनीवाल ने अब किसी भी वार्ता से इंकार कर दिया है. साथ ही RLP कार्यकर्ताओं को ज्यादा से ज्यादा संख्या में खींवसर पहुंचने का आह्वान किया है और गुरुवार को खींवसर थाने के घेराव का ऐलान भी किया है.

इससे पहले खींवसर विधायक नारायण बेनीवाल भी परिजनों के साथ धरने पर बैठे थे. पिछले 4 दिन से विभिन्न मांगों को लेकर मृतक के परिजन धरने पर बैठे हैं. पांचला सिद्धा क्षेत्र के चंपालाल गौड़ की मौत 10 नवंबर को हो गई थी आरोप है कि भूमि विवाद में एक पक्ष ने उनके पीछे ट्रैक्टर दौड़ाया और उसके बाद सांस फूलने से उनकी मौत हो गई. जिसके बाद गुस्साए ग्रामीणों ने विभिन्न मांगों को लेकर खींवसर थाने के बाहर धरना दे रहे हैं मृतक परिजनों के समर्थन में खींवसर विधायक नारायण बेनीवाल भी पिछले 3 दिन से लगातार धरना स्थल पर मौजूद हैं.

पिछले 3 दिनों से लगातार वार्ताओं के दौर भी चला, लेकिन परिजनों की मांगों पर सहमति नहीं बन सकी. मंगलवार को नागौर जोधपुर नेशनल हाईवे पर लोगों ने जाम भी लगाया था. हालांकि, पुलिस ने हल्का बल प्रयोग करते हुए जाम को खुलवा दिया था मंगलवार को भी दिनभर वार्ताओं का दौर चला लेकिन मांगों पर सहमति नहीं बन पाई और गतिरोध बरकरार रहा.

बुधावर को हनुमान बेनीवाल धरना स्थल पर पहुंचे हैं और आईजी अजमेर रेंज संजीव नर्सरी उनसे वार्ता के लिए पहुंचे हैं सांसद हनुमान बेनीवाल ने चेतावनी देते हुए कहा है कि अगर मांगों पर सहमति नहीं बनती है तो आंदोलन और तेज किया जाएगा. उन्होंने सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा की राज्य सरकार इस आंदोलन को दबाने में लगी हुई है जबकि कई विधायक पिछले 3 दिन से धरने पर बैठे हैं लेकिन फिर भी सुनवाई नहीं हो रही.