कांस्टेबल भर्ती 2018 की OMR शीट में गड़बड़ी, Rajasthan Highcourt ने दिए जांच के आदेश

2018 की बारां (Baran) और बूंदी (Bundi) जिलों में हुई कांस्टेबल भर्ती (Constable recruitment) की ओएमआर शीट में कांट-छांट करने से जुड़े मामले में राजस्थान हाईकोर्ट ने निर्देश दिए हैं.

कांस्टेबल भर्ती 2018 की OMR शीट में गड़बड़ी, Rajasthan Highcourt ने दिए जांच के आदेश
प्रतीकात्मक तस्वीर.

Jaipur: राजस्थान हाईकोर्ट (Rajasthan Highcourt) ने 2018 की बारां (Baran) और बूंदी (Bundi) जिलों में हुई कांस्टेबल भर्ती (Constable recruitment) की ओएमआर शीट में कांट-छांट करने से जुड़े मामले में निर्देश दिए हैं.

यह भी पढ़ें- राजस्थान HC के आदेश की हुई अवमानना, कोर्ट ने नोटिस भेज मांगा जवाब

 

हाईकोर्ट ने मामले में एडीजी-भर्ती से 3 मार्च को भर्ती का रिकॉर्ड तलब करने के साथ ही इस गड़बड़ी की 15 दिन में जांच करने के निर्देश भी दिए हैं. न्यायाधीश एसपी शर्मा (SP Sharma) ने यह आदेश किशन कुमार यादव (Kishan Kumar Yadav) व अन्य याचिकाओं पर दिए. अदालत ने कहा कि यदि किसी अन्य जगह पर भी भर्ती में ऐसी गड़बड़ी हुई है तो उसकी भी जांच की जाए.

यह भी पढ़ें- पुलिस कॉन्स्टेबल भर्ती 2016: Highcourt ने जिलेवार परिणाम जारी करने पर लगाई रोक

मामले की सुनवाई के दौरान अदालती आदेश की पालना में प्रार्थियों की मूल ओएमआर शीट पेश की गई, जिसमें प्रार्थियों द्वारा भरे गए गोले दर्शाए गए थे जबकि आरटीआई के जरिए मिली कॉपी में कई उत्तरों में फ्लूड लगाकर संशोधन किया गया है. याचिका में बताया कि याचिकाकर्ता बूंदी जिले में हुई कांस्टेबल भर्ती में शामिल हुए था. उसकी ओएमआर शीट में गड़बड़ी की हुई है. 

याचिकाकर्ता ने ओएमआर शीट में प्रश्नों के जवाब में जो गोले भरे थे, आरटीआई में मिली शीट में इनमें से 6 गोलों को मिटा दिया है और इन जवाबों के अंक भी नहीं जोड़े गए हैं, जिसके चलते याचिकाकर्ता कांस्टेबल भर्ती में चयनित होने से वंचित रह गए.

Reporter- MAHESH PAREEK