राजस्थान: कोरोना पर जान लीजिए कार्यस्थल के यह नियम, नहीं तो लगेगा भारी जुर्माना

प्रदेश में कोरोना संक्रमितों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है. लगातार एक हजार से अधिक कोरोना पॉजिटिव आने लगे हैं.

राजस्थान: कोरोना पर जान लीजिए कार्यस्थल के यह नियम, नहीं तो लगेगा भारी जुर्माना
सरकार ने अधिकारियों को अपने अपने क्षेत्राधिकार में जुर्माना वसूलने की पॉवर दी गई है
Play

विष्णु शर्मा/जयपुर: राजस्थान में लगातार बढ़ते कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए सरकार ने बड़ा कदम उठाया है. अब प्रदेश के सभी कार्यस्थलों में बिना मास्क पाए जाने और सेनेटाइजेशन नहीं करने पर दस हजार रुपए का जुर्माना किया जाएगा. वहीं सार्वजनिक परिवहन में यात्रियों के मास्क नहीं लगाने पर 200 रुपए जुर्माना लगाया जाएगा. 

इसके साथ ही जिला परिषद सीईओ, आरटीओ, डीटीओ, जिला उद्योग अधिकारियों तथा रीको अधिकारियों को अपने अपने क्षेत्राधिकार में जुर्माना वसूलने की पॉवर दी गई है

गौरतलब है कि प्रदेश में कोरोना संक्रमितों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है. लगातार एक हजार से अधिक कोरोना पॉजिटिव आने लगे हैं. रविवार को रिकॉर्ड 1132 पॉजिटिव आने के साथ ही 11 जनों की मौत भी हो गई. ऐसे में बढ़ती कोरोना संक्रमितों की संख्या की संख्या को काबू में रखने के लिए सरकार ने जुर्माना बढ़ाने के साथ ही विभिन्न क्षेत्रों के अधिकारियों को जुर्माना की शक्तियां दी है. 
 

सभी कार्यस्थलों के लिए नियम
- गृह विभाग ने पांच अलग-अलग अधिसूचनांए जारी की
- जिला परिषद सीईओ, बीडीओ, आरटीओ, डीटीओ, जिला उद्योग केंद्र के जीएम, रीको के ईकाई प्रमुख को दी जुर्माना पॉवर
- सभी कार्यस्थलों पर काम के दौरान नियमित सेनेटाइजेशन तथा सोशल डिस्टेंस की पालना नहीं करने पर 10 हजार रुपए का जुर्माना वसूला जाएगा
- लोक परिवहन सेवा, ऑटो, कैब, रिक्शा, बस, ट्रेन में फेस मॉस्क नहीं लगाने पर 200 रुपए जुर्माना लगेगा
- जिला परिषद सीईओ, बीडीओ अब इन पर करेंगे जुर्माना
- सार्वजनिक या कार्य स्थल पर फेस मॉस्क नहीं लगाया- 200 रुपए जुर्माना
- बिना मास्क के ग्राहक को सामान बेचने पर दुकानदार पर - 500 रुपए
- सार्वजनिक स्थल पर थूकने पर - 200 रुपए
- सार्वजनिक स्थल पर शराब, पान, गुटका या तम्बाकू का उपयोग- 500 रुपए जुर्माना
- सार्वजनिक स्थल पर सोशल डिस्टेंस की पालना नहीं करने पर - 100 रुपए
- एसडीएम को बिना सूचना दिए विवाह या समारोह करना- 5 हजार रुपए
- विवाह या अन्य आयोजन में 50 से अधिक इकट्ठे होने पर - दस हजार रुपए जुर्माना

बता दें कि, राजस्थान में कोरोना वायरस (Coronavirus) के संक्रमण से बढ़ते मरीजों की संख्या ने अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) सरकार की चिंता बढ़ा दी है. मंगलवार सुबह साढ़े दस बजे तक राज्य में 406 नए कोविड पॉजिटिव केस सामने आए हैं. इसके बाद, राज्य में कुल कोविड एक्टिव केस की संख्या 10 हजार 452 हो गई है.

राजस्थान स्वास्थ्य विभाग के आंकड़ों के अनुसार, अब कोविड मामलों की संख्या 37 हजार 970 हो गई है. जबकि, इसमें से 26 हजार 878 मरीज कोविड से ठीक होकर अपने घर जा चुके हैं और राज्य में 640 कोरोना पीड़ितों की मौत हो चुकी है.