राजस्थान: सदन में गूंजा श्री डूंगरगढ़ किसानों की जमीन नीलामी का मामला

शुक्रवार को विधायक गिरधारी लाल महिया ने श्रीडूंगरगढ विधानसभा क्षेत्र के किसानों की जमीन कुर्की का मामला उठाया. 

राजस्थान: सदन में गूंजा श्री डूंगरगढ़ किसानों की जमीन नीलामी का मामला
ऋण नहीं चुकाने के चलते यह आदेश जारी किए गए हैं.

जयपुर: राज्य सरकार कि ओर से चुनावी घोषणा के अनुसार की गई कर्जमाफी के बावजूद भी किसानों की जमीन कुर्की का मामला सदन में गूंजा. शुक्रवार को विधायक गिरधारी लाल महिया ने श्रीडूंगरगढ़ विधानसभा क्षेत्र के किसानों की जमीन कुर्की का मामला उठाया. सहकारिता मंत्री उदयलाल आंजना ने जवाब देते हुए कहा कि श्रीडूंगरगढ़ क्षेत्र में 840 किसानों की जमीन कुर्की के आदेश जारी किए गए. ऋण नहीं चुकाने के चलते यह आदेश जारी किए गए है.

महिया का सवाल, जिसमें उन्होंने कहा कि सरकार किसानों की जमीन को नीलामी व कुर्की से बचाने का विचार रखती है. जिस पर आंजना ने कहा कि राज्‍य सरकार द्वारा अल्‍पकालीन, मध्‍यकालीन, दीर्घकालीन ऋण माफी योजना 2018 व 2019 घोषित की गई हैए जिसमें अत्‍यंत जरूरतमंद पात्र लघु व सीमान्‍त कृषकों को जो सहकारी बैकों के ऋणी है को ऋणमाफी का लाभ दे दिया गया है. 

वहीं, वाणिज्‍यक एवं ग्रामीण बैकों के ऋणी किसानों की ऋण माफी को लेकर एक मुश्‍त समाधान योजना लाने के लिए एक कमेटी का गठन किया गया. जिसकी रिपोर्ट आने पर आवश्‍यक कार्यवाही की जाएगी. किसानों की जमीन कुर्की करने पर स्थाई रोक लगाने के लिए सरकार के पास कोई प्रस्ताव लंबित नहीं है.

हालांकि, आंजना की ओर से 840 किसानों के आंकड़ों को विधायक महिया ने गलत बताया और कहा कि इनकी संख्या 3000 से भी ज्यादा है. जिस पर मंत्री आंजना ने कहा कि अगर आंकड़े गलत होंगे तो अधिकारियों पर कार्रवाई की जाएगी.