राजस्थान: मोबाइल गेम ने ली छात्र की जान, पंखे से झूलकर की आत्महत्या

18 वर्षीय छात्र विपिन शर्मा जो 11 वीं में पढ़ाई करता था उसने फासी के फंदे पर झूल कर शनिवार शाम को आत्महत्या कर ली.

राजस्थान: मोबाइल गेम ने ली छात्र की जान, पंखे से झूलकर की आत्महत्या
विपिन शर्मा आबूरोड के एक निजी स्कूल के पढ़ाई करता था.

जयपुर: देश में ब्लू वेल गेम द्वारा हुई मौतों के बाद अब नए गेम से एक छात्र की मौत का मामला सामने आया है. मोबाइल से मारवेल गेम के खेल से मौत का देश का पहला मामला राजस्थान के सिरोही जिले स्थित आबूरोड में हुआ. जहां एक 11 वीं के छात्र ने खेल में फांसी के फंदे पर झूलकर आत्महत्या कर ली. घटना से पूरे क्षेत्र में सनसनी फैल गई. 

बता दें कि कुछ महीनो पहले देशभर में मोबाइल गेम ब्लू वेल से कई बच्चों की मौत हुई थी. तब से लेकर ऐसे कई गेम आए जो जाने अनजाने बच्चों की मौत का कारण बनते जा रहे हैं. इसी क्रम में अब एक नए मोबाइल से गेम से आत्महत्या करने का मामला सामने आया है. खबर के मुताबिक 18 वर्षीय छात्र विपिन शर्मा जो 11 वीं में पढ़ाई करता था उसने फासी के फंदे पर झूल कर शनिवार शाम को आत्महत्या कर ली. जिसके बाद यह अंदाजा लगाया जा रहा है कि विपिन ने अपनी जान एक गेम के कारण ली है. 

आबूरोड सदर पुलिस के अनुसार शनिवार देर शाम सूचना मिली की हाउसिंग बोर्ड में एक छात्र ने आत्महत्या कर ली है और अंदर से दरवाजा बंद है. सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और दरवाजा तोड़ कर अंदर गई. पुलिस ने देखा कि विपिन शर्मा पंखे के फंदे पर झूल कर आत्महत्या कर ली है. जिसके बाद पुलिस ने शव को नीचे उतरा और अस्पलात भिजवा दिया.

खबर के मुताबिक विपिन मूल रूप से हरियाणा के महेंद्रगढ़ का निवासी था. विपिन शर्मा आबूरोड के एक निजी स्कूल के पढ़ाई करता था. वह अपने मामा के घर अपनी बहन के साथ रहता था. पुलिस की मानें तो कमरे की जांच के बाद यह बात सामने आई है कि विपिन ने आत्महत्या से पहले दीवार पर क्यूट लिखी पर्ची चिपकाई थी. 

साथ ही पुलिस को मौके पर एक कॉपी मिली है, जिसके एक पेज पर मारवेल नामक गेम का जिक्र किया गया है. वहीं कॉपी के पेज पर उस गेम के कई स्टेप भी लिखे हुए है. जिससे माना जा रहा है के मोबाइल गेम मारवेल के चलते ही विपिन ने आत्महत्या कर ली. पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम करा शव परिजनों को सौंप दिया है. फिलहाल पुलिस मामले की जांच में जुट गई है.