close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

राजस्थान: थार एक्सप्रेस को लेकर जनता ने लगाई मोदी सरकार से मदद की गुहार

थार एक्सप्रेस बंद करने इस आदेश के बाद बाड़मेर जिले के हजारों लोगों में मायूसी का दौर है क्योंकि दोनों देशों के बीच रोटी और बेटी का रिश्ता है.

राजस्थान: थार एक्सप्रेस को लेकर जनता ने लगाई मोदी सरकार से मदद की गुहार
पिछले सप्ताह ही पाकिस्तान के रेल मंत्री ने कहा था कि थार एक्सप्रेस बंद हो जाएगी.

बाड़मेर: जम्मू-कश्मीर मामले को लेकर भारत और पाक के बीच लगातार गतिरोध बढ़ता जा रहा है. जिसके चलते जोधपुर-कराची के बीच चलने वाली रिश्तो की ट्रेन थार एक्सप्रेस को भी अब बंद कर दिया है. आज भारतीय रेलवे की ओर से आदेश जारी किया गया कि थार एक्सप्रेस अगले आदेश तक स्थगित की जाती है. 

थार एक्सप्रेस बंद करने इस आदेश के बाद बाड़मेर जिले के हजारों लोगों में मायूसी का दौर है क्योंकि दोनों देशों के बीच रोटी और बेटी का रिश्ता है. लिहाजा पिछले 14 साल से लोग किसी रेल से पाकिस्तान जाते थे. पाकिस्तान से भारत आते थे और इस तरीके से दोनों देशों के लोगों के बीच रिश्तेदारी का दौर जारी था. पिछले सप्ताह ही पाकिस्तान के रेल मंत्री ने कहा था कि थार एक्सप्रेस बंद हो जाएगी. 

वहीं आज जब लोगों को इस बात की खबर मिली तो बाड़मेर जिले के कई लोग पाकिस्तान में फंस गए हैं. अब उनके परिवार वाले मोदी सरकार से गुहार लगा रहे हैं कि हमारी जो लोग हैं जो पिछले एक-दो महीनों से पाकिस्तान में अपने रिश्तेदारों से मिलने गए थे उन लोगों को किसी भी तरीके से भारत लाया जाए. 
 
वहीं इन लोगों का पाकिस्तानी सरकार और पाकिस्तानी रेलवे मंत्री पर जबरदस्त गुस्सा करते हुए कहा कि इस तरीके से पाकिस्तान क्यों दोनों देशों के आवाम को परेशान कर रहा है. जम्मू कश्मीर का मामला भारत का आंतरिक है फिर क्यों पाकिस्तान इसकी आड़ में दोनों देशों की आवाम को परेशान कर रहा है. 

बाड़मेर जिले के पाक विस्थापित जिला संयोजक नरपत सिंह धारा बताते हैं कि उनके रिश्तेदार पिछली 15 जुलाई को पाकिस्तान गए थे. इसी 23 तारीख को वापस भारत आने वाले थे, लेकिन अब थार एक्सप्रेस बंद हो गई है. उन्हें चिंता है कि अब वह लोग कैसे आएंगे. मेरे जैसे ऐसे कई परिवार है यहां पर जिनके लोग पाकिस्तान अपने रिश्तेदारों से राखी बनवाने के लिए गए हैं अब वह लोग वापस कैसे आएंगे.

ऐसे में हम लोग सरकार से अपील करते हैं कि सरकार किसी भी तरीके से जो लोग पाकिस्तान गए हैं उन्हें सही सलामत वापस भारत लेकर आए. गौरतलब है कि पिछले 14 साल से चल रही थार एक्सप्रेस में अब तक 4 लाख यात्री सफर कर चुके हैं.