राजस्थान: रामगढ़ विधानसभा में मतदान हुआ शुरू, 20 उम्मीदवारों के भाग्य का होगा फैसला

राजस्थान के इस सीट पर सोमवार को हो रहे चुनाव में 278 मतदान केंद्रों पर 2 लाख 35 हजार 625 मतदाता वोटिंग करेंगे.

राजस्थान: रामगढ़ विधानसभा में मतदान हुआ शुरू, 20 उम्मीदवारों के भाग्य का होगा फैसला
रामगढ़ विधानसभा के एक मतदान केंद्र पर कतार में खड़े लोग.

अलवर/प्रमोद कुमार: राजस्थान में उम्मीदवार के निधन के कारण स्थगित रहा अलवर जिले के रामगढ़ विधानसभा क्षेत्र में मतदान शुरू हो चुका है. चुनाव आयोग की ताजा अपडेट के अनुसार रामगढ़ में सुबह 9 बजे तक 6.90 प्रतिशत मतदान हो चुका है. मतदान शाम 5 बजे तक जारी रहेगा.

राजस्थान के इस सीट पर सोमवार को हो रहे चुनाव में 278 मतदान केंद्रों पर 2 लाख 35 हजार 625 मतदाता अपने मताधिकार का इस्तेमाल करेंगे. जिसमें 1 लाख 10 हजार 497 महिला मतदाता और 1 लाख 46 हजार 613 पुरुष मतदाता शामिल हैं. 

 

कांग्रेस, बीजेपी और बीएसपी के बीच है त्रिकोणीय लड़ाई

इस चुनाव में कांग्रेस, भाजपा, बसपा सहित 20 प्रत्याशी चुनाव मैदान में है. बसपा ने पूर्व केन्द्रीय मंत्री नटवर सिंह के पुत्र जगत सिंह को चुनाव मैदान में उतारा है, जबकि सत्ताधारी कांग्रेस ने अलवर की पूर्व जिला प्रमुख साफिया जुबेर खान को और भाजपा ने पूर्व प्रधान सुखवंत सिंह को टिकट दिया है. चुनाव में मुख्य मुकाबला बीजेपी, कांग्रेस और बीएसपी के बीच माना जा रहा है.

मतदान शांतिपूर्ण संपन्न कराने के लिए चाक-चौबंद है इंतजाम

निर्वाचन विभाग के सूत्रों के अनुसार 278 मतदान केंद्रों पर 1280 निर्वाचन कर्मचारी मतदान प्रक्रिया को पूरा करने के लिए नियुक्त हुए हैं. इसके अलावा शांतिपूर्ण मतदान संपन्न कराने के लिए ढाई हजार पुलिसकर्मी, 3 एफएसटी, 3 एसएसटी तथा 3 वीएसटी तैनात हैं. वहीं, चुनाव प्रक्रिया पर निगरानी रखने के लिए 9 एरिया मजिस्ट्रेट की भी नियुक्ति हुई है.

उम्मीदवार लगातार देते रहे विवादित बयान 

रामगढ़ विधानसभा चुनाव प्रचार के दौरान उम्मीदवारों के विवादित बयान के कारण लगातार खबरों की सुर्खियों में बना रहा. नटवर सिंह के बेटे जगत सिंह ने चुनाव प्रचार के दौरान कई बार विवादित बयान दिया. जिसमें उन्होंने पीएम मोदी, सीएम गहलोत और वसुंधरा को पेटी पैक करने और एके -47 चलाने का बयान दिया. जिसके बाद उनपर चुनाव आयोग ने 3 बार नोटिस भी जारी की. चुनाव आयोग की नोटिस मिलने के बाद भी जगत के विवादित बयान देने का सिलसिला नहीं रूका. उनके अलावा यहां से कांग्रेस की प्रत्याशी साफिया जुबेर खान ने भी सिर फोड़ कर चुनाव जीतने के बात कह डाली.

2018 में विधानसभा चुनाव के दौरान 99 सीटें जीतने वाली कांग्रेस की दावेदारी यहां से प्रबल मानी जा रही है. माना जाता है कि आम तौर पर सत्ताधारी दल इस तरह के चुनाव में जीत हासिल करती है.