राजस्थान विधानसभा में उठे मुद्दे की जानकारी मंत्रियों-विभागों तक पहुंचाए अधिकारी: सीपी जोशी

Rajasthan News: जोशी ने कहा कि चाहे स्थगन प्रस्ताव हो या 295 के जरिए, जो भी जनता के मुद्दे आ रहे हैं उन मुद्दों पर जानकारी विभाग के मंत्री तक जानी चाहिए ताकि सरकार अपने जवाब में उन्हें शामिल कर सके.

राजस्थान विधानसभा में उठे मुद्दे की जानकारी मंत्रियों-विभागों तक पहुंचाए अधिकारी: सीपी जोशी
सदन में उठे जनता के मुद्दों की जानकारी मंत्रियों तक पहुंचे : जोशी

Jaipur: विधानसभा अध्यक्ष सीपी जोशी (CP Joshi) ने बुधवार को कहा कि सदन में उठे जनता के मुद्दों की जानकारी सम्बद्ध मंत्रियों तक पहुंचायी जाए ताकि सरकार उन पर जवाब दे सके या कार्यवाही हो सके. इसके साथ ही जोशी ने सदन में मौजूद अधिकारियों से कहा कि वह उठाई गयी शिकायतों की जानकारी सम्बद्ध विभागों को दें.

जोशी ने प्रश्नकाल के दौरान हस्तक्षेप करते हुए यह व्यवस्था दी. उन्होंने कहा, ‘मैं सरकार को यह निर्देश देता हूं कि सदन में कोई भी सदस्य मुद्दा उठाता है तो विभाग के अधिकारी कर्तव्य बनता है कि वह इन चीजों की जानकारी मंत्रियों को दे. उससे कम से कम जन भावना पर निर्णय हो सकेगा.’

ये भी पढ़ें-गरीब-गांधीवादी देश में मंत्रियों को नहीं मिलनी चाहिए ज्यादा आराम के साधन: अमीन खां

 

सीपी जोशी ने कहा, ‘मैं आशा करता हूं कि जो विभागीय अधिकारी यहां विधानसभा में बैठकर कार्यवाही नोट करते हैं, जिस विभाग के संबंध में जो भी कोई शिकायत आ रही है तो उस शिकायत को विभाग के पास भेजें जिससे समय पर सदन में उसके बारे में टिप्पणी की जा सके. यह सदन की गरिमा को बनाए रखने के लिए जरूरी है.’

उन्होंने कहा कि चाहे स्थगन प्रस्ताव हो या 295 के जरिए, जो भी जनता के मुद्दे आ रहे हैं उन मुद्दों पर जानकारी विभाग के मंत्री तक जानी चाहिए ताकि सरकार अपने जवाब में उन्हें शामिल कर सके. दरअसल, विधायक मेवाराम जैन ने बाड़मेर में सीवरेज कार्य से जुड़ा एक सवाल उठाया था. उन्होंने इस मामले में कार्रवाई की जानकारी चाही तो मंत्री शांति धारीवाल ने कहा कि उन्हें या उनके विभाग को कोई शिकायत नहीं मिली है. विधायक जैन ने कहा कि वह सदन में यह मुद्दा उठा चुके हैं. इस पर आसन ने यह व्यवस्था दी.

ये भी पढ़ें-BJP विधायक Saraf ने हाथ जोड़कर रखी फीस वसूली की बात, बोले- पैरेंट्स को राहत दिलाओ

 

(इनपुट-भाषा)