close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

राजस्थान: महिला कांस्टेबल ने थाने में की सुसाइड, लगाया प्रताड़ना का आरोप

मृतका महिला कॉन्स्टेबल गीता के भाई ने सांचौर वृताधिकारी ओमप्रकाश उज्जवल, थानाधिकारी और एक महिला कॉन्स्टेबल पर हत्या करने के आरोप लगाए हैं. 

राजस्थान: महिला कांस्टेबल ने थाने में की सुसाइड, लगाया प्रताड़ना का आरोप
प्रतीकात्मक तस्वीर

सांचौर: जालोर के सांचौर के पुलिस थाने में तैनात एक महिला कांस्टेबल ने शुक्रवार को आत्महत्या कर ली. जिसके बाद से पूरे इलाके में हड़कंप मच गया. महिला कांस्टेबल के आत्महत्या के कुछ ही समय बाद एक सुसाइड नोट मिला है. जिसमें महिला ने विभाग के आलाधिकारियों और साथी महिला कांस्टेबलों पर गंभीर आरोप लगाए हैं. 

मृतका महिला कांस्टेबल गीता के भाई ने सांचौर वृताधिकारी ओमप्रकाश उज्जवल, थानाधिकारी और एक महिला कांस्टेबल पर हत्या करने के आरोप लगाए हैं. परिवार का कहना है कि विभाग के अधिकारी पिछले 20 दिन से उसे प्रताड़ित कर रहे थे जिसके चलते गीता को आत्महत्या करने पर मजबुर होना पड़ा.

सुसाइड नोट में महिला ने पहले मां, पापा, भाई और परिवार के सदस्यों से माफी मांगी है. उसने लिखा मैं आप सभी से हाथ जोड़कर माफी मांगती हूं. मुझे माफ करना अब मैं नहीं जी सकती मैं बहुत परेशान हूं. मुझे बहुत परेशान करते हैं. मुझे सांचौर थानाधिकारी व उनके पास बैठने वाली महिला कांस्टेबल ने बहुत परेशान किया है. ये मुझे जीने नहीं देंगे. भाई बहनों से बहुत प्यार करती हूं और मां पिताजी मैं आपसे बहुत प्यार करती हूं. पापा में जीना चाहती हूं, पर मुझे ये लोग जीने नहीं देंगे. प्लीप पापा माफ करना.

सांचौर वृताधिकारी ओमप्रकाश उज्जवल से मृतका गीता की आत्महत्या करने से कुछ देर पहले चार बार लगातार बात हुई. ऐसे में परिवार के सदस्यों ने सांचौर वृताधिकारी ओमप्रकाश उज्जवल, थानाधिकारी व महिला कांस्टेबल पर गंभीर आरोप लगाते हुए कहा है कि इन्होंने ही हत्या की है. परिवार के सदस्यों ने चेतावनी दी है कि जब तक इनके खिलफ कर्रवाई नही होगी तब तक शव नहीं उठाएंगे. इसी मांग पर परिवार अड़ा हुआ है. ऐसे में अब बड़े सवाल खड़े हो रहे हैं कि जब विभाग के अधिकारी इस तरीके से स्टाफ को प्रताड़ित करेंगे तो फिर आखिर नौकरी किस तरीके से करेंगे. ऐसे में अब देखने वाली बात यह होगी की इन लोगों के खिलाफ कोई कार्रवाई होगी या नहीं.