close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

चूरू जिला परिषद की बैठक में पहुंचे राजेंद्र राठौड़, विकास कार्यों की समीक्षा की

इस मौके पर प्रतिपक्ष के उपनेता राजेंद्र राठौड़ ने कहा कि अब पिछले 6 माह से हालात इस तरह के हो चुके हैं कि किस जिले में सड़कों की हालत दयनीय है. 

चूरू जिला परिषद की बैठक में पहुंचे राजेंद्र राठौड़, विकास कार्यों की समीक्षा की

नरेंद्र राठौड़, चूरू: जिला परिषद सभाकक्ष में जिला परिषद चूरू की साधारण सभा बैठक आयोजित की गई. बैठक में विकासात्मक कार्यों की समीक्षा करने के साथ-साथ जिला परिषद की निजी आय-व्यय एवं पंचायती राज विभाग की विभिन्न योजनाओं के तहत स्वीकृत निर्माण कार्यों का अनुमोदन किया गया. 

बैठक में प्रतिपक्ष के उपनेता राजेन्द्र राठौड़ ने एमएलए कोटे में स्वीकृत कार्यों को समय सीमा में पूर्ण करने, ढाणियों का विद्युतिकरण करने, विद्युत लाईन बदलने का मुद्दा उठाया. बैठक में राजगढ कृषि उपज मण्डी की फाइलों की 7 दिवस में जांच करने, सरदारशहर के ग्राम शिमला में पेयजल आपूर्ति करने, ग्राम नेठवा से साहवा तक पाईप लाईन डालकर जलापूर्ति करने, राजगढ और तारानगर में सड़कों का नवीनीकरण, ग्राम उड़सर लोडेरा में खेल मैदान के ऊपर से जा रही 11 हजार केवी विद्युत लाईन को हटाने, ग्राम बीनासर में सड़क मरम्मत कराने, पंचायत सहायकों को मानदेय का भुगतान करने संबंधी प्रकरणों का त्वरित निस्तारण करने का मुद्दा भी छाया रहा.

इस मौके पर प्रतिपक्ष के उपनेता राजेंद्र राठौड़ ने कहा कि अब पिछले 6 माह से हालात इस तरह के हो चुके हैं कि किस जिले में सड़कों की हालत दयनीय है. पेयजल आपूर्ति बिल्कुल गड़बड़ाई हुई है, विद्युत व्यवस्था भी बिल्कुल सही नहीं है, जब उनसे यह पूछा गया कि इस बैठक में कांग्रेस के विधायक और मंत्री नहीं आए तो उनका जवाब था कि वह अभी राज के नशे में मदहोश हैं लेकिन राठौड़ ने कहा कि उन्होंने जब से राजनीति शुरू की है वह 7 बार विधायक बने हैं लेकिन कभी भी वह साधारण सभा की बैठक में अनुपस्थित नहीं रहे हैं.