close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

चूरू में युवक के साथ दरिंदगी, रेप मामले में गवाही देने से रोकने के लिए खींची जुबान

शीशपाल ने बताया कि 2017 में धर्मपाल जाट ने उसके भांजे की पत्नी से बलात्कार किया था. इस मामले में शीशपाल गवाह है. मामला चूरू के जिला एवं सेशन न्यायालय में चल रहा है 

चूरू में युवक के साथ दरिंदगी, रेप मामले में गवाही देने से रोकने के लिए खींची जुबान
प्रतीकात्मक तस्वीर

चूरू: जिले की तारानगर तहसील की बाय गांव में शीशपाल मेघवाल को बंधक बनाकर उसके साथ दरिंदगी का मामला सामने आया है. यह दरिंदगी उसके साथ गवाही मिटाने के लिए की गई. शीशपाल को धर्मपाल जाट और उसके साथियों ने बंधक बनाया और गाड़ी में डालकर खेतों में ले गए. 

खेतों में ले जाकर धर्मपाल जाट और उसके साथियों ने शीशपाल के हाथ-पांव रस्सियों से बांध दिए और उसके साथ बेरहमी से मारपीट की. इतना ही नहीं वह कोर्ट के एक मामले में गवाही न दे सके इसके लिए शीशपाल की उन्होंने जीभ भी खींच डाली. इस दौरान शीशपाल बेहोश हो गया और वह उसे एक गहरे जोहड़ में फेंक कर मौके से फरार हो गए. 

दूसरे दिन सुबह ग्रामीणों ने जब शीशपाल को पड़ा हुआ देखा तो उसे सबसे पहले साहवा के राजकीय अस्पताल पहुंचाया. उसके बाद शीशपाल को तारानगर के अस्पताल में भर्ती करवाया गया. तारानगर से रेफर होकर शीशपाल चूरू के राजकीय अस्पताल पहुंच गया. जिसके बाद शीशपाल को पूरी तरह से होश आने के बाद साहवा पुलिस चौकी में 5 नामजद सहित कई अन्य के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है. 

शीशपाल ने बताया कि 2017 में धर्मपाल जाट ने उसके भांजे की पत्नी से बलात्कार किया था. इस मामले में शीशपाल गवाह है. मामला चूरू के जिला एवं सेशन न्यायालय में चल रहा है इसलिए धर्मपाल ने शीशराम को रास्ते से हटाने के लिए फरवरी 2018 में भी मोटरसाइकिल की टक्कर मारकर चोटिल किया था. 8 जून को भी इन लोगों ने शीशपाल के साथ मारपीट की थी जिसकी सूचना शीशपाल ने पुलिस को भी दी थी लेकिन पुलिस के ढुलमुल रवैए के कारण इन दरिंदों के हौसले बढ़ गए और उन्होंने शीशपाल की यह हालत कर दी. अब साहवा पुलिस चौकी प्रभारी गोविंद राम ने मामला दर्ज कर आरोपियों की तलाश शुरू कर दी है.