कोटा में अतिक्रमण हटाओ अभियान के बाद भी नहीं सुधरे लोग, किया कुछ ऐसा...

अतिक्रमण पर नगर निगम कोटा सख़्त है. लगातार अतिक्रमण हटाने की मुहिम चल रही वजह शहर के ज़्यादातर इलाक़ों में मुख्य बाज़ारों में अतिक्रमियों ने बड़े पैमाने पर अपने दुकानों के हिस्सों को आगे बढ़ाते हुए अतिक्रमण किया हुआ है.

कोटा में अतिक्रमण हटाओ अभियान के बाद भी नहीं सुधरे लोग, किया कुछ ऐसा...
कोटा में अतिक्रमण हटाओ अभियान के बाद भी नहीं सुधरे लोग.

कोटा: राजस्थान के कोटा नगर निगम ने शहर को अतिक्रमण मुक्त बनाने का बीड़ा उठाया है. शहर के हर इलाक़े के अतिक्रमण निगम के निशाने पर है, लेकिन इसी के साथ बड़ी चुनौती ये की अतिक्रमण पर कारवाई होने के बाद भी लोग नहीं मान रहे हैं. तमाम कारवाई होने के बाद भी लोग सड़कों पर अतिक्रमण करने लगते हैं.  

अतिक्रमण पर नगर निगम कोटा सख़्त है. लगातार अतिक्रमण हटाने की मुहिम चल रही वजह शहर के ज़्यादातर इलाक़ों में मुख्य बाज़ारों में अतिक्रमियों ने बड़े पैमाने पर अपने दुकानों के हिस्सों को आगे बढ़ाते हुए अतिक्रमण किया हुआ है. ऐसे में आए दिन जाम के हालात मुख्य बाज़ारों में बनते है.

निगम ऐसे ही अतिक्रमण पर कारवाई कर उन्हें हटाने में जुटा है ताकि अतिक्रमण हटने के साथ जाम से भी मुक्ति मिले निगम का दस्ता हर रोज़ शहर के अलग अलग इलाक़ों में बड़े दस्ते के साथ पहुंच जेसीबी से अतिक्रमण हटा भी रहा है. इसके साथ हीं निगम के सामने चुनौती बनकर ये अतिक्रमि खड़े होते है. वहीं, कारवाई के कुछ वक़्त बाद ये उसी तरह अतिक्रमण कर फिर सड़क तक आ जमते है और निगम की कारवाई वही रह जाती है.

अब नगर निगम ने ऐसे अतिक्रमियो के लिए एक प्लान भी बनाया है. अतिक्रमण हटाने के बाद दुबारा फिर से अतिक्रमण करने वालों के ख़िलाफ अब निगम मामला दर्ज कर क़ानूनी कारवाई करवाएगा.

निश्चित ही कोटा के लिए बड़ी समस्या जाम है और उसकी वजह अतिक्रमण. अतिक्रमण पर निगम एक्शन में है लेकिन सफलता फ़िलहाल ना के बराबर कही जा सकती है.