शर्मनाक! जरूरतमंदों का हक मारकर अपने घर भर में आटा-तेल जमा कर रहे ये लोग...

कई समृद्ध मुफ्तखोर गरीब और जरूरतमंदों का हक मारकर अपने घर भरने से बाज नहीं आ रहे.

शर्मनाक! जरूरतमंदों का हक मारकर अपने घर भर में आटा-तेल जमा कर रहे ये लोग...
प्रतीकात्मक तस्वीर.

जयपुर: देश में आपात की स्थिति में भी कई मुफ्तखोर और मुनाफाखोर अपने घर और जेबें भरने से बाज नहीं आ रहे. जहां एक तरफ किराना दुकानदार, सब्जी विक्रेता आवश्यक वस्तुओं के मनमाने दाम वसूल अपनी जेब भर रहे हैं, तो दूसरी तरफ समाज में बैठे कई समृद्ध मुफ्तखोर गरीब और जरूरतमंदों का हक मारकर अपने घर भरने से बाज नहीं आ रहे.

ऐसा ही मामला सांगानेर क्षेत्र में देखने को मिला. यहां एक व्यक्ति ने सीएमओ में शिकायत की कि उनके घर पर्याप्त राशन सामाग्री नहीं है और उपलब्ध करवाई जाए. शिकायत पर रसद सामाग्री लेकर जब टीम मौके पर पहुंची तो पहले टीम के सदस्यों को शिकायतकर्ता का आवास देकर शक हुआ. सभी सुविधाओं से सम्पन्न आवास में टीम ने किचन में जाकर खाद्य सामग्री की जांच की तो देखा वहां पर्याप्त मात्रा में आटा, मसाले, तेल सहित अन्य खाद्य सामाग्री का स्टॉक पड़ा था.

पूछने पर शिकायतकर्ता ने इसे अपना न बताकर घर में ही रहने वाले अन्य परिवार का कहकर अपने को बचाने लगा. इतना ही नहीं, शिकायतकर्ता कहना लगा कि हम इस मकान में किराये पर रहते है और ये रसोई भी हमारी नहीं है. झूठी शिकायत कर राशन सामाग्री लेने के मामले में प्रशासन के अधिकारियों ने शिकायतकर्ता को डांट-फटकार लगाई और आगे से शिकायत करने पर कठोर कार्यवाही करने की हिदायत देकर छोड़ दिया.