जालोर: कांग्रेस सेवादल ने निकाली 'लोकतंत्र बचाओ' रैली, राष्ट्रपति के नाम दिया ज्ञापन

कांग्रेस सेवा दल ने ज्ञापन में बताया कि जब से केंद्र में भारतीय जनता पार्टी की सरकार बनी है, तब से देश में लोकतंत्र खतरे में है. 

जालोर: कांग्रेस सेवादल ने निकाली 'लोकतंत्र बचाओ' रैली, राष्ट्रपति के नाम दिया ज्ञापन
प्रतीकात्मक तस्वीर.

बबलू मीणा, जालोर: कांग्रेस सेवा दल ने रविवार को 'लोकतंत्र बचाओ' रैली निकाली. रैली के रूप में सभी कलेक्ट्रेट पहुंचे. जनता द्वारा चुनी के सरकार को भारतीय जनता पार्टी द्वारा अलोकतांत्रिक तरीके से गिराने के आरोप लगाए. अलोकतांत्रिक तरीके से गिराने की प्रक्रिया पर रोक लगाकर लोकतंत्र को बचाने को लेकर महामहिम राष्ट्रपति के नाम अतिरिक्त जिला कलेक्टर छगनलाल गोयल को ज्ञापन सौंपा.

कांग्रेस सेवा दल ने ज्ञापन में बताया कि जब से केंद्र में भारतीय जनता पार्टी की सरकार बनी है, तब से देश में लोकतंत्र खतरे में है. बीजेपी द्वारा अलोकतांत्रिक तरीके से गोवा, कर्नाटक, मध्यप्रदेश में जनता द्वारा चुनी गई सरकारों को खरीद फरोख्त कर अलोकतांत्रिक तरीके से सरकारों को गिरा दिया गया.

ऐसा ही चरित्र भारतीय जनता पार्टी की केंद्र सरकार का आज राजस्थान में देखने को मिल रहा है. अगर भारतीय जनता पार्टी इसी प्रकार से जनता के द्वारा चुनी गई सरकारों को गिराने का काम करेगी तो देश में अराजकता फैलने एवं लोकतंत्र समाप्त होने का खतरा पैदा हो जाएगा. भारतीय जनता पार्टी की केंद्र सरकार द्वारा सरकारी संस्थाओं ईडी, सीबीआई तथा आयकर विभाग का दुरुपयोग कर गैर जिम्मेदाराना कार्रवाई कर रही है, जिससे जनभावनाएं उग्र हो रही हैं और आम जनता के मन में क्रोध पैदा हो रहा है. इसलिए इन संस्थाओं का दुरुपयोग रोका जाए. 

महामहिम राष्ट्रपति महोदय की सेवा में ज्ञापन पेश कर लोकतंत्र को बचाने की मांग की. इस दौरान नैनसिंह राजपुरोहित पूर्व जिलाध्यक्ष जालोर, पूर्व विधायक रामलाल मेघवाल, भरत मेघवाल, अंबालाल माली, जवानाराम परिहार, आमसिंह परिहार, जगदीश गोदारा, जुल्फीकार अली भुट्टो, सवाराम पटेल और वीरेंद्र जोशी सहित तमाम कांग्रेसी कार्यकर्ता व वरिष्ठ कार्यकर्ता मौजूद रहे.