राजस्थान: NEET परीक्षा में ALLEN के शोएब ने किया कमाल, प्राप्त किया 100 प्रतिशत अंक

शोएब की माता सुल्ताना रजिया ने कहा कि गरीब लोगों की चिकित्सक बनकर सेवा करें यही कामना है. वर्षों की तपस्या रंग लाई हैं. शोएब की सफलता पर सुल्ताना रजिया भावुक भी हो गई. 

राजस्थान: NEET परीक्षा में ALLEN के शोएब ने किया कमाल, प्राप्त किया 100 प्रतिशत अंक
शोएब अफताब को परीक्षा में 720 में से 720 अंक मिले हैं.

जयपुर: मेडिकल प्रवेश परीक्षा नीट-2020 (NEET-2020) के परिणा की घोषणा हो गई. इस परीक्षा में ऐलन इंस्टिट्यूट (Allen Institute) कोटा के छात्र शोएब आफताब ने टॉप किया है. शोएब देश के पहले छात्र बने है, जिन्हें परीक्षा में 720 में से 720 अंक प्राप्त हुए हैं.

शोएब ने कहा कि उनका सपना अच्छा कार्डियोलाजिस्ट (Cardiologist) बनकर देश सेवा करने का हैं. उन्होंने कहा कि वह एम्स (AIIMS) दिल्ली में आगे की पढ़ाई करेंगे. कोरोना (Corona) काल को अवसर के तौर पर देखा. अतिरिक्त समय में सारे डाउट्स क्लीयर किए.

शोएब की माता सुल्ताना रजिया ने कहा कि गरीब लोगों की चिकित्सक बनकर सेवा करें यही कामना है. वर्षों की तपस्या रंग लाई हैं. शोएब की सफलता पर सुल्ताना रजिया भावुक भी हो गई. शोएब ने कहा कि बचपन में सोचता था मशीनें इलाज करेंगी. उन्होंने कहा कि तैयारी के दौरान 10 से 12 घंटे तक की नियमित पढ़ाई की. 3 साल से पढ़ाई के चलते घर से दूर रहा.

शोएब ने कहा वह ऐलन के 3 साल से स्टूडेंट है. जानकारी के अनुसार, देशभर में नीट की परीक्षा 13 सितंबर को 3,843 परीक्षा केंद्रों पर आयोजित की गई थी. आधिकारिक डेटा के अनुसार, इस साल नीट की परीक्षा में करीब 90 फीसदी छात्र शामिल हुए थे. नीट परीक्षा के लिए इस बार कुल 15.97 लाख उम्मीदवारों ने रजिस्टर किया था. 

बता दें कि कोरोना वायरस महामारी के कारण नीट को परीक्ष को लेकर लंबे समय तक संशय बना था. परीक्षा को टालने के लगातार छात्रों और राजनीतिक दलों द्वारा प्रदर्शन किया जा रहा था. साथ ही परीक्षा को टालने के लिए सुप्रीम कोर्ट में जनहित याचिका भी दायर कर गई थी. लेकिन कोर्ट ने परीक्षा टालने से इंकार कर दिया था. इसके बाद परीक्षा 13 सितंबर को आयोजित कराई गई थी, जिसमें ज्यादातर स्टूडेंट शामिल हुए थे.

सरकार ने सभी परीक्षा केंद्र पर कोविड नियमों के पालन करने के निर्देश दिए थे. साथ ही महामारी के देखते हुए इस बार विशेष ट्रेन और परीक्षा केंद्रों की संख्या भी बढ़ाई गई थी. जानकारी के अनुसार, नीट परीक्षा को पास करके स्टूडेंट एमबीबीएस (MBBS) में दाखिल पाते हैं.