राज्य मंत्री अशोक चांदना ने सबके सामने लगाई पटवारी को फटकार, बोले- नेतागिरी करने...

मंत्री ने फटकार लगाते हुए कहा कि जो पटवारी काम नहीं कर रहे हैं, उन्हें बाड़मेर का रास्ता दिखाएं.

राज्य मंत्री अशोक चांदना ने सबके सामने लगाई पटवारी को फटकार, बोले- नेतागिरी करने...
मंत्री ने फटकार लगाते हुए कहा कि जो पटवारी काम नहीं कर रहे हैं, उन्हें बाड़मेर का रास्ता दिखाएं.

संदीप व्यास, बूंदी: राज्य मंत्री अशोक चांदना (Ashok Chandna) दबंगता के मामले में हमेशा सुर्खियों में रहे हैं. वह अपने विधानसभा क्षेत्र में किसी भी प्रकार से अधिकारियों की लापरवाही पसंद नहीं करते हैं.

मामले को गंभीरता से देखते हुए अधिकारियों को फटकार लगाने से भी सार्वजनिक रूप से नहीं चूकते. कल हिंडोली नैनवा के दौरे के दौरान भी उन्होंने जिला कलेक्टर आशीष गुप्ता को राजस्व रिकॉर्ड ऑनलाइन नहीं होने की स्थिति को देखते हुए ऑफलाइन करने की बात को गंभीरता से लिया और फटकार लगाते हुए कहा कि जो पटवारी काम नहीं कर रहे हैं, उन्हें बाड़मेर का रास्ता दिखाएं.

यह भी पढ़ें- स्वायत्त शासन मंत्री धारीवाल ने की स्मार्ट सिटी परियोजना कार्यों की समीक्षा, बोले कि...

उन्होंने यहां तक कह दिया कि जिले में नेतागिरी करने वाला मैं एक ही आदमी हूं और दूसरा नहीं है. कलेक्टर ने मंत्री की बात को गंभीरता से लेते हुए कल ही ऑफलाइन रिकॉर्ड उपलब्ध कराने के निर्देश सभी अधिकारियों को जारी किए हैं लेकिन मंत्री अशोक चांदना की फटकार का मामला गरमा गया और देखते देखते ही सोशल मीडिया में वायरल हो गया. अशोक चांदना ने इससे पूर्व भी हिंडोली में विद्युत अभियंताओं को और ट्रैफिक इंचार्ज को भी फटकार लगाई थी. वह मामला भी काफी गर्माया था.