close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने कहा- 'ऐतिहासिक रहा संसद सत्र, सबका मिला सहयोग'

ट्रिपल तलाक और जम्मू-कश्मीर से संबंधित ऐतिहासिक बिल पास होने के बाद लोकसभा स्पीकर ओम बिरला ने मीडिया से बातचीत में यह बात कही.

लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने कहा- 'ऐतिहासिक रहा संसद सत्र, सबका मिला सहयोग'
उन्होंने अगले सत्र तक संसद को पेपरलेस बनाने की बात कही. (फाइल फोटो)

नई दिल्ली: लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला इस बार के संसद की कार्यवाही को पहले से अलग बताया. उन्होंने कहा कि संसद का यह सत्र निर्बाध रूप से संचालित हुआ. 

शनिवार को संसद भवन में प्रेस-वार्ता के दौरान उन्होंने कहा कि संसद सत्र के दौरान पूरे समय का सदुपयोग हुआ. इस दौरान नए सदस्यों को सदन में अपने बात रखने का मौका मिला. स्पीकर ओम बिरला ने इसका श्रेय मीडिया और सांसदों को दिया.

पेपरलेस होगा संसद
उन्होंने कहा कि संसद को पेपर लेस बनाने का हमने वादा किया है. जिसपर 80 प्रतिशत सांसदों ने अपनी सहमति जताई है. उन्होंने कहा कि अगले सत्र तक संसद को पेपरलेस बनाने में कामयाब होंगे.

लाइव टीवी देखें-:

मीडिया की रही सकारात्मक भूमिका
स्पीकर ने इस दौरान मीडिया की सकारात्मक भूमिका और रिपोर्टिंग की भी प्रशंसा की. उन्होंने यह भी कहा कि सभी दलों ने बिल पास करवाने में सकारात्मक सहयोग किया.

नए संसद भवन के लिए हो रहा प्रयास
उन्होंने बताया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से नए संसद भवन के निर्माण को लेकर आग्रह किया गया है. उन्होंने कहा कि दुनिया में लोकतंत्र के मंदिर की गरिमा को और बड़ा करने के लिए प्रदेशों को विधानसभा अध्यक्षों की कांफ्रेंस बुलाई जाएगी. जिसका आयोजन अगस्त महीने में किया गया है. उन्होंने कहा कि समय के साथ संसदीय प्रकियाओं और बदलाव के लिए सिस्टम अपग्रेड करना जरूरी है.

आपको बता दें कि भारतीय संसद ने इस बार ट्रिपल तलाक के खिलाफ और जम्मू-कश्मीर से संबंधित ऐतिहासिक बिल पास किया है.