राष्ट्रीय अध्यक्ष के चुनाव को लेकर कांग्रेस में हलचल शुरू, एप के जरिए होगी वोटिंग

इस बार वोटिंग ऐप के जरिए कांग्रेस अध्यक्ष का चुनाव ऑनलाइन कराने की तैयारी की जा रही है. इसके लिए बाकायदा एक वोटिंग एप तैयार किया जा रही है. 

राष्ट्रीय अध्यक्ष के चुनाव को लेकर कांग्रेस में हलचल शुरू, एप के जरिए होगी वोटिंग
प्रतीकात्मक तस्वीर.

जयपुर: देश की सबसे पुरानी पार्टी कांग्रेस के अध्यक्ष पद को लेकर चुनाव की कवायद एक बार फिर से शुरू हो गई है. अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी (All india congress committee) के सेंट्रल इलेक्शन अथॉरिटी (Central Election Authority) ने चुनावी प्रक्रिया की गतिविधियों को शुरू कर दिया है. 

फिलहाल हर राज्य से एआईसीसी डेलिगेट्स की लिस्ट मंगवाने का काम अंतिम दौर में है. राजस्थान कांग्रेस ने भी अपने 73 एआईसीसी सदस्यों की सूची दिल्ली भेज दी है. माना जा रहा है कि कोरोना के चलते इस बार का चुनाव ऑनलाइन किया जा सकता है. लेकिन इसमें कहीं कोई दो राय नहीं है कि यह चुनाव कांग्रेस की आने वाले दिनों में दशा और दिशा बदलने वाला चुनाव होगा.

यह भी पढ़ें- LIST: 12 जिलों में निकाय चुनावों को लेकर कांग्रेस ने की पर्यवेक्षक नामों की घोषणा

 

बिहार विधानसभा और कई राज्यों के उपचुनाव परिणाम के बाद कांग्रेस में फिर से राष्ट्रीय अध्यक्ष के चुनाव को लेकर हलचल शुरू हो चुकी है. कांग्रेस की सेंट्रल इलेक्शन अथॉरिटी इस काम में जुट गई है, जिसके तहत तमाम राज्यों से एआईसीसी डेलिगेट्स की लिस्ट मंगाई जा रही है. करीब 1700 एआईसीसी डेलिगेट्स राष्ट्रीय अध्यक्ष के चुनाव में हिस्सा लेंगे. 2017 में यह एआईसीसी सदस्य चुने गए थे और उन्हीं डेलिगेट्स की सूची को अपडेट करके चुनाव कराए जाएंगे. अगर राजस्थान के संदर्भ में बात करें तो राजस्थान कांग्रेस ने अपने 73 सदस्यों की सूची एआईसीसी को सौंप दी है. जिसके तहत उनकी डिजिटल फोटोग्राफ सहित अन्य जानकारियां भेजी गई हैं.

वोटिंग ऐप के जरिए कांग्रेस अध्यक्ष का चुनाव 
खास बात ये भी है कि इस बार वोटिंग ऐप के जरिए कांग्रेस अध्यक्ष का चुनाव ऑनलाइन कराने की तैयारी की जा रही है. इसके लिए बाकायदा एक वोटिंग एप तैयार किया जा रही है. एआईसीसी की तकनीकी टीम इस काम में जुटी हुई है. प्रत्येक डेलिगेट्स को एक हाई सिक्योरिटी कार्ड जारी किया जाएगा. साथ ही क्यू आर कोड भी दिया जाएगा, जिसमें उस सदस्य की सारी डिटेल होगी. सामने आ रहा है कि यूथ कांग्रेस वोटिंग ऐप की तरह मतदान होगा. हर सदस्य के मोबाइल नंबर उससे अटैच होंगे. जैसे ही वह लॉगिन करेंगे, मोबाइल नंबर पर ओटीपी आएगा, जिसके बाद वह पसंद के उम्मीदवार को वोट कर सकेंगे. 

बताया जा रहा है कि 2 राज्यों को छोड़कर सब ने सूची दिल्ली भेज भी दी है. हालांकि अभी अधिकृत रूप से यह साफ नहीं हो पा रहा है कि अध्यक्ष पद पर क्या राहुल गांधी की दोबारा ताजपोशी होगी या फिर किसी और नेता को मौका दिया जाएगा. या फिर सर्व सहमति से राहुल गांधी को ही अध्यक्ष बनाया जाएगा. इसको लेकर तरह-तरह की चर्चाएं जारी है. लेकिन निश्चित तौर पर कांग्रेस के अध्यक्ष पद का यह चुनाव आने वाले दिनों में कांग्रेस की है और दशा और दिशा तय करने वाला रहेगा.