अजमेर: जेएलएन हॉस्पिटल के डॉक्टरों ने NMC बिल के विरोध में किया कार्य बहिष्कार

मीडिया से बातचीत में रेजिडेंट डॉक्टर्स एसोसिएशन के पदाधिकारियों ने कहा कि एनएमसी बिल में वांछित संशोधन केंद्र सरकार ने नहीं किया है.

अजमेर: जेएलएन हॉस्पिटल के डॉक्टरों ने NMC बिल के विरोध में किया कार्य बहिष्कार
डॉक्टरों ने केंद्र सरकार को चेतावनी भी दी. (प्रतीकात्मक फोटो)

अजमेर: जिले के जेएलएन अस्पताल में कार्यरत रेजिडेंट डॉक्टर 24 घंटे की कार्य बहिष्कार पर है. जिस कारण अस्पताल में मरीजों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है. डॉक्टर केंद्र सरकार की लाई गई संशोधन बिल का विरोध कर रहे हैं.

मीडिया से बातचीत में रेजिडेंट डॉक्टर्स एसोसिएशन के पदाधिकारियों ने कहा कि एनएमसी बिल में वांछित संशोधन केंद्र सरकार ने नहीं किया है. जिसका देश के तमाम डॉक्टर्स विरोध कर रहे है. इसी दौरान रेजिडेंट डॉक्टर्स गुरुवार को एक दिवसीय हड़ताल पर हैं.

लाइव टीवी देखें-:

विरोध प्रदर्शन के दौरान रेजिडेंट डॉक्टरों ने काली पट्टी बांधकर 2 घंटे तक पूर्ण कार्य बहिष्कार किया. इस दौरान हॉस्पिटल में कार्यरत डॉक्टरों ने केंद्र सरकार को चेतावनी भी दी.

इस दौरान प्रदर्शनकारी डॉक्टरों ने कहा कि अगर जल्द ही एनएमसी बिल में संशोधन नहीं किया गया तो अनिश्चितकालीन हड़ताल पर जा सकते हैं. अजमेर मेडिकल कॉलेज में कार्यरत सभी डॉक्टरों ने काली पट्टी बांधकर सरकार के निर्णय 24 घंटे तक विरोध करने का ऐलान किया है.