बाड़मेर में अचानक बढ़ीं सामूहिक आत्महत्याएं, अब तक 6 लोगों की मौत

चौहटन क्षेत्र के बिंजासर गांव में एक प्रेमी युगल ने फांसी का फंदा लगाकर आत्महत्या का प्रयास किया, जिसमें युवती की मौके पर ही मौत हो गई.

बाड़मेर में अचानक बढ़ीं सामूहिक आत्महत्याएं, अब तक 6 लोगों की मौत
शवों का पोस्टमार्टम कर परिजनों को सुपुर्द कर दिया जाएगा.

भूपेश आचार्य, बाड़मेर: पश्चिमी राजस्थान के बाड़मेर जिले में पिछले काफी समय से सामूहिक आत्महत्याओं की कई घटनाएं सामने आ रही हैं. ऐसे में आज जिले में तीन अलग-अलग आत्महत्या की घटनाओं में दो मासूमों सहित 6 जनों की मौत हो गई है.

जिले के सदर थाना अंतर्गत सरली गांव में एक विवाहिता ने अपने 2 वर्षीय मासूम बच्ची के साथ टांके में कूदकर आत्महत्या कर ली. जानकारी के अनुसार, इस महिला के 4 साल का एक लड़का भी है, जो घटना के वक्त उसके पास नहीं था.

पूरे मामले को लेकर विवाहिता के भाई ने पुलिस को रिपोर्ट पेश कर बताया कि मेरी बहन की शादी को 8 वर्ष बीत चुके हैं और पिछले काफी समय से उसका देवर एवं सास दहेज को लेकर उसे परेशान करती थी. इसी प्रकार थोड़ी ही दूरी पर स्थित रावतसर गांव में भी विवाहिता ने 1 वर्षीय मासूम बच्चे के साथ टांके में कूदकर आत्महत्या की घटना को अंजाम दिया है और इस महिला की शादी को 4 वर्ष बीते हैं. 

इसी बीच जिले के चौहटन क्षेत्र के बिंजासर गांव में एक प्रेमी युगल ने फांसी का फंदा लगाकर आत्महत्या का प्रयास किया, जिसमें युवती की मौके पर ही मौत हो गई और युवक की फांसी के फंदे से जान बची तो उसने पास ही स्थित एक कुएं में कूदकर आत्महत्या कर ली.

फिलहाल पुलिस ने सभी सभा को राजकीय चिकित्सालय की मोर्चरी में रखवाया है और पूरे मामले की जांच में जुट गई है और शवों का पोस्टमार्टम कर परिजनों को सुपुर्द कर दिया जाएगा.