ऑन लाइन नेटवर्क के जरिए व्यापारियों को बनाते थे निशाना, अलवर पुलिस ने किया खुलासा

ये बदमाश ऑनलाइन नेटवर्क के जरिए गेहूं, काजू, सुपारी, पेपर, प्लास्टिक दाना आदि बेचने वाले गुजरात, महाराष्ट्र, आंध्रप्रदेश, मध्यप्रदेश व कर्नाटक के व्यापारियों के नाम व मोबाइल नंबर सर्च करने के बाद उनसे संपर्क करते थे. 

ऑन लाइन नेटवर्क के जरिए व्यापारियों को बनाते थे निशाना, अलवर पुलिस ने किया खुलासा
झांसा देकर अपराधी व्यापारियों को लूटते थे. (प्रतीकात्मक फोटो)

जयपुर: एनईबी थाना पुलिस ने अपहरण लूट की वारदातों को अंजाम देने वाले अंतरराज्यीय गिरोह के 5 बदमाशों को गिरफ्तार किया है. पुलिस ने गिरप्तार अपराधियों के पास से एक देशी कट्टा, कारतूस, चाकू, सरिया सहित बोलेरो गाड़ी व बाइक बरामद की है. 

सिटी सीओ दिनेश रोहडिय़ा ने बताया कि गु्प्त सूचना के आधार पर झंकार होटल के पीछे स्थित शराब ठेके के पास 6-7 बदमाश को पकड़ने का प्रयास किया, जो किसी बड़ी वारदात को अंजाम देने की फिराक में थे. धरपकड़ के दौरान पुलिस ने दबिश दी तो बदमाश भागने लगे. इस दौरान पुलिस लुकमान, तालीम, आरिफ, हथीन और मुबीन नामक अपराधियों की पकड़ने में कामयाब हुई. 

व्हाटसएप के जरिए वारदात को देते थे अंजाम
थानाधिकारी रविंद्र प्रताप ने बताया कि पकड़े गए बदमाशों से पूछताछ में अपहरण कर लूट की 26 वारदातों का खुलासा हुआ है. ये बदमाश ऑनलाइन नेटवर्क के जरिए गेहूं, काजू, सुपारी, पेपर, प्लास्टिक दाना आदि बेचने वाले गुजरात, महाराष्ट्र, आंध्रप्रदेश, मध्यप्रदेश व कर्नाटक के व्यापारियों के नाम व मोबाइल नंबर सर्च करने के बाद उनसे संपर्क करते थे. जिसके बाद व्हाटसएप के जरिए व्यापारियों को माल की फोटो भेजकर सौदेबाजी करते थे. फिर व्यापारियों को माल बेचने का झांसा देकर दिल्ली बुलाकर बंधक बनाकर उनकी घड़ी, एटीएम, सोने की चेन आदि छीन लेते थे. इसके अलावा ये बदमाश बंधक बनाकर रखे व्यापारियों को डरा धमकाकर उनसे हवाला के जरिए दिल्ली में रुपए मंगवाते थे और वारदात के बाद व्यापारियों को बस में बैठाकर फरार हो जाते थे.