नाबालिग से अश्लील हरकत का आरोपी शिक्षक 1 महीने से फरार, SP को सौंपा ज्ञापन

बाड़मेर में एक महीने पहले एक 15 वर्षीय नाबालिग के साथ शिक्षक द्वारा गांव में मरहम पट्टी के बहाने अश्लील हरकत कर दुष्कर्म के प्रयास करने का मामला सामने आया था. 

नाबालिग से अश्लील हरकत का आरोपी शिक्षक 1 महीने से फरार, SP को सौंपा ज्ञापन
प्रतीकात्मक तस्वीर

बाड़मेर: राजस्थान में महिला अत्याचारों के मामलों में लगातार बढ़ोतरी देखने के मिल रही है. बाड़मेर में एक महीने पहले एक 15 वर्षीय नाबालिग के साथ शिक्षक द्वारा गांव में मरहम पट्टी के बहाने अश्लील हरकत कर दुष्कर्म के प्रयास करने का मामला सामने आया था. जिसके बाद परिजनों ने आरोपी शिक्षक के खिलाफ मामला दर्ज करवाया था. मामला दर्ज करवाए हुए एक महीना बीत चुका है, लेकिन आरोपी अब भी पुलिस गिरफ्त से दूर है. अब पीड़िता ने परिजनों के साथ जिला मुख्यालय पहुंचकर कार्यवाहक एएसपी पुष्पेंद्र सिंह आढ़ा को ज्ञापन सौंपकर न्याय की गुहार लगाई है.

ये भी पढ़ें: स्कूल फीस पर निजी स्कूल-अभिभावक संघ आमने-सामने, राजस्थान हाईकोर्ट ने दिया यह निर्देश

दरअसल बाड़मेर जिले के  गुड़ामालानी थाना क्षेत्र में 18 सितंबर को दलित नाबालिक किशोरी ने शिक्षक रतन लाल पर अश्लील हरकत और दु्ष्कर्म के प्रयास का आरोप लगाते हुए मामला दर्ज करवाया था. पीड़िता का कहना था  कि  उसके हाथ के चोट लगने के बाद वह अपने शिक्षक के पास पट्टी करवाने गई थी. शिक्षक रतन लाल शिक्षण कार्य के साथ कम्पाउंडर का कार्य भी करता है. उसने दवाई लेने के लिए किशोरी के पिता को मेडिकल स्टोर पर भेज दिया और उनके जाते ही उसके साथ अश्लील हरकतें करने के साथ दुष्कर्म करने का प्रयास किया. 

उसके चिल्लाने पर उसके पिता जब मौके पर आए तो शिक्षक ने उनके साथ भी अभद्र व्यवहार किया और जाति सूचक शब्दो से अपमानित किया. वहीं, घटना को लेकर गुड़ामालानी थाने में में धारा 354 क, 7,8 पॉक्सो एक्ट और एससी एसटी एक्ट की धाराओं में मामला दर्ज किया गया था. वहीं पीड़िता के मुताबित उसके बालोतरा कोर्ट में 164 के बयान दर्ज किए जा चुके हैं, लेकिन आरोपी शिक्षक अब  भी पुलिस गिरफ्त से दूर है. पीड़िता ने अपने ज्ञापन में बताया कि मामले के अनुशंधान अधिकारी गुड़ामालानी उप अधीक्षक से व्यक्तिगत रूप से मिलकर मामले की गिरफ्तारी की मांग की गई, लेकिन अभी तक मामले में कुछ भी प्रगति नहीं हुई है.

वहीं, मामले में पुलिस की कार्यशैली पर उठ रहे सवालों के बीच अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक पुष्पेन्द्र सिंह आढा ने बताया कि मामले की जांच डिप्टी गुड़ामालानी कर रहे हैं. इसके सात आरोपी की तलाश भी पुलिस लगातार कर रही है. जल्द ही आरोपी शिक्षक को गिरफ्तार कर लिया जाएगा.

ये भी पढ़ें: बिहार में चुनावी गणित पर महंगी दाल का शोर, राजस्थान में भी दलहन कीमतों में आई तेजी