close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

जयपुर में आयोजित दृष्टिबाधित क्रिकेट प्रतियोगिता में अजमेर की टीम ने मारी बाजी

तीन दिनों तक राजधानी जयपुर के दर्शकों ने खेल की ऐसी प्रतिभा देखी जो आज से पहले जयपुर के लोगों ने नहीं देखा था. तीन दिनों तक आयोजित इस प्रतियोगिता में राजस्थान की कुल 6 टीमों ने हिस्सा लिया. 

जयपुर में आयोजित दृष्टिबाधित क्रिकेट प्रतियोगिता में अजमेर की टीम ने मारी बाजी
अजमेर की टीम पहले बल्लेबाजी करते हुए जयपुर की टीम को 228 रनों का लक्ष्य दिया.

जयपुर: राजधानी जयपुर के एसएमएस स्टेडियम में पिछले तीन दिनों से चौके-छक्कों की बरसात हुई. आपको ये जानकर हैरानी होगी कि इस क्रिकेट मैच के खिलाड़ी हैं वो देख नहीं सकते थे. राज्य स्तरीय दृष्टिबाधिक क्रिकेट प्रतियोगिता में राजधानी जयपुर के एसएमएस स्टेडियम की एकेडमी में सोमवार को प्रतियोगिता का फाइनल मुकाबला खेला गया, जिसमें अजमेर की टीम ने जयपुर की टीम को 110 रनों से हराकर ट्रॉफी पर कब्जा किया. प्रतियोगिता के फाइनल मुकाबले में मुख्य अतिथि के रूप में विधानसभा अध्यक्ष और आरसीए अध्यक्ष सीपी जोशी मौजूद रहे.

चलने के लिए किसी के सहारे और समझने के लिए आवाज की जरुरत, लेकिन जब बल्ला लेकर वो मैदान पर उतरते हैं तो अच्छे अच्छे खिलाड़ी भी शरमा जाएं. राजधानी जयपुर में आयोजित तीन दिवसीय दृष्टिबाधित क्रिकेट प्रतियोगिता का सोमवार को समापन हुआ. तीन दिनों तक राजधानी जयपुर के दर्शक ने खेल की प्रतिभा का वो हुनर देखा जो आज से पहले जयपुर के लोगों ने नहीं देखा था. तीन दिनों तक आयोजित इस प्रतियोगिता में राजस्थान की कुल 6 टीमों ने हिस्सा लिया. 

सोमवार को प्रतियोगिता का फाइनल मुकाबला खेला गया, जिसमें अजमेर की टीम पहले बल्लेबाजी करते हुए जयपुर की टीम को 228 रनों का लक्ष्य दिया. लेकिन जयपुर की पूरी टीम महज 117 रनों पर सिमट गई, जिसके चलते अजमेर की टीम ने फाइनल मुकाबला 110 रनों से जीत लिया. समापन में बतौर मुख्य अतिथि के रूप में मौजूद विधानसभा अध्यक्ष सीपी जोशी ने भी इन खिलाड़ियों की जमकर सराहना की.

हालांकि बीसीसीआई से मान्यता नहीं होने के चलते राजस्थान की दृष्टिबाधित क्रिकेट को इतना बढ़ावा नहीं मिल पाया है, जितना मिलना चाहिए था. सीपी जोशी ने इस बात पर भी चिंता जताई. सीपी जोशी ने कहा की आज इनका खेल देखा और इन खिलाड़ियों ने अपनी प्रतिभा के दम पर बता दिया है कि ये भी किसी से कम नहीं है. इसके साथ ही सीपी जोशी ने कहा की आने वाले टाइम में इस खेल को जितना बढ़ावा दिया जा सकेगा उतना आरसीए की ओर से दिया जाएगा.

प्रतियोगिता का आयोजन करवा रहे लुई-ब्रेल दृष्टिहीन विकास संस्थान के अध्यक्ष पीसी जैन ने बताया की जयपुर में पहली बार इस प्रतियोगिता का आयोजन करवाया जा रहा है. पहली बार में ही इस प्रतियोगिता को काफी लोकप्रियता मिली है. ऐसे में आने वाले समय में इस प्रतियोगिता को और ऊंचाइयां मिलेगी इसकी पूरी उम्मीद है. साथ ही जैन ने बताया की आरसीए की ओर से प्रतियोगिता के लिए ग्राउंड निशुल्क उपलब्ध करवाया गया और आने वाले समय में हर सहयोग का भी आश्वासन दिया.