नागौर में बदला मौसम, शीतलहर के कारण हुई तापमान में गिरावट

नागौर जिले में कई स्थानों पर हल्की बूंदाबांदी के साथ बरसात की भी शुरुआत हो गई है. वहीं जिले के कई भागों में सोमवार कोहरा भी छाया रहा.

नागौर में बदला मौसम, शीतलहर के कारण हुई तापमान में गिरावट
मौसम विभाग के अनुसार आने वाले कुछ घंटों में पूरे जिले में तेज बारिश हो सकती है.

हनुमान तंवर/डीडवाना: मौसम के बदले मिजाज का असर आज पूरे नागौर जिले में देखने को मिला जिले भर में जहां बादल छाए रहे. वहीं, कई स्थानों पर हल्की बूंदाबांदी के साथ बरसात की भी शुरुआत हो गई है. वहीं जिले के कई भागों में सोमवार कोहरा भी छाया रहा. जहां एक ओर खींवसर में हल्की बूंदाबांदी के साथ ही बरसात ने दस्तक दी. 

वहीं, मेड़ता, डेगाना, डीडवाना और लाडनू क्षेत्र में घने बादल छाए हुए थे. साथ ही, तेज हवाओं की वजह से मौसम में ठंडक बरकरार रही. जबकि, कुचामन के अगर बात की जाए तो कुचामन में आज कोहरा छाया हुआ है, जिसकी वजह से सड़क पर विजिबिलिटी काफी कम नजर आ रही है. 

साथ ही, वाहन चालकों को इसकी वजह से भारी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है. मौसम विभाग के अनुसार आने वाले कुछ घंटों में पूरे जिले में तेज बारिश हो सकती है और खिंवसर मे जिस प्रकार से बूंदाबांदी ने दस्तक दी है. वैसे ही, लाडनू और डीडवाना क्षेत्र में भी हल्की बूंदाबांदी दर्ज की गई है. जिस तरह से मौसम बना हुआ है उससे संभावना यह जताई जा रही है कि मंगलवार को भी बेमौसम बारिश हो सकती है.

वहीं, इससे आने वाले दिनों में फिर से पारे में गिरावट दर्ज होने की संभावना है. मौसम के बदले मिजाज से एक तरफ जहां जनजीवन प्रभावित हुआ है. दूसरी तरफ किसानों को भी अगर बरसात होती है तो इसकी मार झेलनी पड़ सकती है. फसल को इसकी वजह से खासा नुकसान होने की संभावना है.

बता दें कि, अचानक से मौसम में आए बदलाव और पहाड़ों में बर्फवारी से राजस्थान समेत उत्तर भारत एक बार फिर से शीतलहर और ठंड की चपेट में आ गया है. प्रदेश में घने कोहरे और ठंड से जनजीवन पूरी तरह अस्त व्यस्त हो गया है. एक और जहां ठंड से बचने के लिए लोग अलाव का सहारा ले रहे हैं, वहीं कोहरे का कहर सड़कों पर हादसे के रूप में दिख रहा है.

राजस्थान में 1 दिन की हल्की राहत के बाद कड़कड़ाती ठंड और शीतलहर ने एक बार फिर से लोगों को कंपकपा दिया है. घने कोहरे और सर्दी की वजह से लोगों घरों में दुबकने को मजबूर हैं. आलम ये हैं, दिन में बारिश और मौसम के बदले तेवर ने लोगों का जीन मुश्किल कर दिया है.