जयपुर योजना भवन में लगाई गई यह खास मशीन, जानें कैसे करेगी 'कोरोना' की पहचान?

वन में प्रवेश करने से पहले व्यक्ति को थोड़ी देर डिटेक्टर के सामने खड़ा होगा. 

जयपुर योजना भवन में लगाई गई यह खास मशीन, जानें कैसे करेगी 'कोरोना' की पहचान?
भवन में प्रवेश करने से पहले व्यक्ति को थोड़ी देर डिटेक्टर के सामने खड़ा होगा.

जयपुर: कोरोना कॉल में तकनीक मददगार साबित हो रही है. योजना भवन में भी प्रवेश करने से पहले तकनीक के इस उत्पाद से गुजरना होगा. निजी कपंनी की ओर से योजना भवन में प्रयोग के तौर पर थर्मल स्कैनर मशीन लगाई है. 

मैटल डिटेक्टर की तरह के डिवाइस से बॉडी टेम्परेचर बिना किसी व्यक्ति की मदद से दर्ज हो सकेगा. भवन में प्रवेश करने से पहले व्यक्ति को थोड़ी देर डिटेक्टर के सामने खड़ा होगा. 

इसमें लगे कैमरे और सेंसर से बॉडी टेम्परेचर रिकॉर्ड होकर स्क्रीन पर दिखेगा. अगर आपका तापमान 37 डिग्री से कम है तो ग्रीन सिग्नल दिखेगा, वरना रेड सिग्नल के साथ अलॉर्म बजेगा.

दरअसल, राजस्थान में कोरोना (Coronavirus) पॉजिटिव मरीजों की संख्या में लगातार इजाफा हो रहा है. सरकार की सैकड़ों कोशिशों के बावजूद यहां पर कोरोना मरीज हर दिन लगातार बढ़ रहे हैं. 22 मई की दोपहर 2 बजे आई रिपोर्ट के अनुसार 150 नए मामले आए हैं. जिसके बाद, यहां पर कोराना पॉजिटिव मरीजों का आंकड़ा 6377 पहुंच गया है.

वहीं, राजस्थान में इस समय कोरोना एक्टिव केस की संख्या 2663 हो गई है. हालांकि,  3562 मरीज रिकवर भी हो चुके हैं. राजस्थान में कुल मौतों का आंकड़ा 152 हो गया है. 

राजस्थान में 22 मई को दोपहर 2 बजे तक अजमेर से 6, बांसवाड़ा से 2, बाड़मेर से 14, भीलवाड़ा से 4, बीकानेर से 1, दौसा से 1, डूंगरपुर से 17, जयपुर से 13, जैसलमेर से 1, जालौर से 5, झुंझुनू से 6, जोधपुर से 18, कोटा से 17, नागौर से 3, पाली से 15, राजसमंद से 1, सीकर से 5, सिरोही से 9 और उदयपुर से 12 कोरोना पॉजिटिव केस सामने आए हैं.