close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

उम्र से पहले बूढ़ा हुआ राजस्थान का यह गांव, पेंशन के लिए मां 86 की बेटा हुआ 70 का

पेंशन योजना के लिए दूदू तहसील में अच्छे खासे खाते पीते मर्द और जवान महिलाएं भी अचानक बुर्जुग हो गए. चौकाने वाली बात ये है कि एक नहीं दो नहीं बल्कि 20 गांवों के 1500 से अधिक लोगों की उम्र ही बदल गई है.

उम्र से पहले बूढ़ा हुआ राजस्थान का यह गांव, पेंशन के लिए मां 86 की बेटा हुआ 70 का
फाइल फोटो

जयपुर: राजस्थान के जयपुर का दूदू रातोरात बूढ़ा हो गया. दरअसल, यह मामला सरकारी वृद्धावस्था पेंशन योजना से जुड़ा है. जयपुर के दूदू पंचायत समिति के कई गांव के लोगों ने सरकारी खजानों को चूना लगाने के लिए योजनाबद्ध तरीका अपनाया और मिलीभगत कर करोडों डकार गए है. ऐसे में गरीब और असहाय वद्धजनों को मिलने वाली 4137 करोड़ की सरकारी योजना पर सवाल खडे हो गए हैं.  

पेंशन योजना के लिए दूदू तहसील में अच्छे खासे खाते पीते मर्द और जवान महिलाएं भी अचानक बुर्जुग हो गए. चौकाने वाली बात ये है कि एक नहीं दो नहीं बल्कि 20 गांवों के 1500 से अधिक लोगों की उम्र ही बदल गई है. वृद्धावस्था पेंशन योजना का लाभ लेने के लिए जयपुर की दूदू ग्राम पंचायत में इतने बड़े स्तर पर फर्जीवाड़ा चल रहा है. जयपुर से मात्र 40 किलोमीटर की दूरी पर इस तरह के घोटाले का इतना बड़ा खेल सामने आया है.

गांव की जवान महिलाएं और जवान पुरूष उम्र बढ़वाकर आराम से बुजुर्गों की पेंशन का लाभ ले रहे हैं. हर महीने बिना बुजुर्ग हुए ही जवानों के खातों में 500 रूपए की पेंशन खातों तक पहुंच रही है. पेंशन के लिए ग्राम पंचायतों में इतना घोटाला हो रहा है कि मां की उम्र 83 साल और बेटे की उम्र 70 साल कर दी गई है. जी मीडिया के पास 750 से ज्यादा ऐसे लोगों की सूची है जो भामाशाह, आधार जेसे दस्तावेजों में फेरबदल कर उम्र बढ़वाकर पेशन का लाभ ले रहे हैं. इसमें सबसे बड़ी भूमिका ईमित्र संचालक की है. जिन्होंने आधार और भामाशाह में एडिटिंग कर हजारों लोगों की उम्र 25 से 30 साल तक बढा दी है. 

रधुवीर सिंह ने कबूला कि कैसे उन्होंने ई मित्र संचालकों को पैसे देकर उम्र बढ़वा ली और महज 48 की उम्र में ही उन्हें पेंशन का लाभ मिल रहा है. दूदू तहसील के बोकड़ावास गांव के रधुवीर सिंह की उम्र राशन कार्ड में 43 साल, आधार कार्ड में 48 साल और पेंशन पीपीओ के अनुसार रधुवीर सिंह की उम्र 70 साल है यानि 48 साल का रधुवीर पेंशन के लिए 70 साल का हो गया है.

लक्ष्मी देवी ने भी बताया कि उन्होंने कैसे ई मित्र संचालकों को पैसे देकर अपनी और अन्य दो लोगों की उम्र बढ़वाई और ई मित्र संचालक को इसके लिए रिश्वत के रूप में 9 हजार रूपए की राशि दी. बोकड़ावास की लक्ष्मी की राशन कार्ड में उम्र 36, पेंशन के लिए उनकी उम्र 56 हो गई. 

10 गांव, कुल 4489 पेंशनधारी, इनमें 2593 फर्जी-
गांव          पेंशनधारी         फर्जी
ममाणा       578             490
कोरसना     792             475
हबसपुरा     968             460
श्रीरामपुरा   751             418
मरवा         755             312
पिंगून         158             157
नीमली        175            110
बोकडावास  127             85
जडायता      151             75
मोरडी कलां  34             11

इस पूरे मामले के खुलासे के बाद राजस्थान सरकार में सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री अरूण चतुर्वेदी का कहना है कि पहले से पेंशन योजना में लगातार सुधार हुआ है. कुछ मामले फर्जीवाड़े के जरूर मिले हैं. जिसको लेकर जिला कलेक्टर और विभागीय अधिकारियों को निर्देश दिए है. इतना जरूर है कि सरकार किसी भी जरूरतमंद पर डाका नहीं डालने देगी. दोषियों के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई होगी.

वैसे आपको बता दे कि पेंशन के लिए महिला 55 और पुरूष 58 साल का होना चाहिए. ई मित्र संचालक पोश मशीन पर अंगूठा लगवाकर पहले आधार कार्ड, फिर भामाशाह कार्ड और फिर राशन कार्ड से उम्र बढ़ा देते हैं. मतदाता पहचान पत्र की फोटो कॅापी में भी कांट-छांट कर वही उम्र दर्शा दी जाती है. इसके बाद पेंशन के लिए आवेदन किया जाता है. पंचायत समिति से भी इन फर्जी पेंशनधारियों का सत्यापन हो जाता है. पेंशन शुरू होते ही सभी दस्तावेजों में उम्र वापस कम कर दी जाती है.