राजस्थान: 'वर्ल्ड हेरिटेज डे' पर पर्यटन विभाग की पहल, टूरिस्ट ऐसे करेंगे पर्यटक स्थलों का दीदार

आमेर महल के फेसबुक (Facebook) पेज के साथ-साथ अल्बर्ट हॉल (Albert Hall) म्यूजियम का भी फेसबुक पेज और टि्वटर (Twitter) अकाउंट बनाया गया है.

राजस्थान: 'वर्ल्ड हेरिटेज डे' पर पर्यटन विभाग की पहल, टूरिस्ट ऐसे करेंगे पर्यटक स्थलों का दीदार
'वर्ल्ड हेरिटेज डे' के अवसर पर शनिवार शाम को आमेर महल परिसर को रोशनी से जगमग किया गया.

दामोदर प्रसाद/जयपुर: वर्ल्ड हेरिटेज डे (World Heritage Day) हर साल 18 अप्रैल को मनाया जाता है. इस वर्ष लॉकडाउन (Lockdown) के चलते पुरातत्व विभाग के पर्यटन स्थलों को एतिहात के तौर पर बंद किया गया है. साथ ही, प्रदेश में लॉकडाउन और कोरोना वायरस (Coronavirus) की वजह से विश्व विरासत दिवस के अवसर पर किसी भी कार्यक्रम का आयोजन नहीं किया गया है.

ऐसे में टूरिस्ट पर्यटक स्थलों से दूर हैं, लेकिन देसी और विदेशी पर्यटकों को किलो-महलों से जोड़े रखने के उद्देश्य से आमेर महल के फेसबुक (Facebook) पेज के साथ-साथ अल्बर्ट हॉल (Albert Hall) म्यूजियम का भी फेसबुक पेज और टि्वटर (Twitter) अकाउंट बनाया गया है.

वहीं, अजमेर के स्मारकों की ऑनलाइन छायाचित्र प्रदर्शनी भी लगाई गई है. लॉकडाउन (Lockdown) के चलते पर्यटक जयपुर और प्रदेश की वर्ल्ड हेरिटेज साइट्स से दूर हैं. लेकिन फेसबुक पेज के जरिए वह इनसे जुड़ाव महसूस करेंगे. 'वर्ल्ड हेरिटेज डे' के अवसर पर शनिवार शाम को आमेर महल परिसर को रोशनी से जगमग किया गया.

jaipur

इस दौरान, प्रमुख सचिव शासन पर्यटन, कला, साहित्य, संस्कृति एवं पुरातत्व विभाग के निर्देशानुसार, राजस्थान में यूनेस्को (UNESCO) की ओर से 18 अप्रैल वर्ल्ड हेरिटेज डे के रूप में आयोजित किया गया. इस वर्ष साझा संस्कृति, साझा विरासत और साझा जिम्मेदारी विषय के साथ वर्ल्ड हेरीटेज डे को विश्व भर में आयोजित किया गया है.

बता दें कि वर्ल्ड हेरिटेज डे के अवसर पर खास तौर पर पुरातत्व एवं संग्रहालय विभाग के अधीन आने वाले किले, महलों, स्मारक और संग्रहालय में पर्यटकों का तिलक लगाकर और माला पहनाकर स्वागत किया जाता है. साथ ही, सभी स्मारकों में पर्यटकों का प्रवेश भी निशुल्क रहता है. लेकिन इस बार कोरोना संक्रमण और लॉकडाउन के चलते सभी कार्यक्रम स्थगित कर दिए गए हैं.  

गौरतलब है कि कोरोना वायरस के संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए केंद्र की नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) सरकार द्वारा पूरे देश में 3 मई तक लॉकडाउन लागू किया गया है. इस दौरान, आवश्यक सेवाओं को छोड़कर सभी चीजों पर प्रतिबंध हैं. साथ ही सरकार द्वारा लोगों से अपील की गई है कि, वह जहां पर हैं, वहीं रहें, ताकि कोरोना के चैन को फैलने से रोका जा सके. ऐसे में, भीड को रोकने के लिए सभी तरह के सार्वजनिक क्रार्यक्रमों पर भी रोक लगी है.