भीलवाड़ा: यातायात नियमों के लिए निकाला गया जागरुकता कैंडल मार्च, बांटे गए हेलमेट

इस अवसर पर जिला कलेक्टर राजेंद्र भट्ट ने आयोजित कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि मात्र लापरवाही एवं जागरुकता की कमी के कारण दुर्घटनाएं होती हैं. 

भीलवाड़ा: यातायात नियमों के लिए निकाला गया जागरुकता कैंडल मार्च, बांटे गए हेलमेट
प्रतीकात्मक तस्वीर.

दिलशाद खान, भीलवाड़ा: विश्व स्मरण दिवस के अवसर पर रविवार को सड़क सुरक्षा (Road Safety) के प्रति लोगों में जनजागृति पैदा करने के उद्देश्य से रेलवे स्टेशन (Railway Station) से सूचना केंद्र तक कैंडल मार्च (Candle March) निकाला गया. यहां इसके पश्चात दुर्घटनाओं में मृतकों के लिए एक श्रद्धांजलि सभा का आयोजन हुआ और संदीप बजाज मोटर्स की ओर से हेलमेट वितरित किए गए.

रेलवे स्टेशन से निकले कैंडल मार्च को जिला कलेक्टर राजेंद्र भट्ट ने रवाना किया तथा स्वयं भी मार्च में सम्मिलित हुए. मार्च में अतिरिक्त जिला कलेक्टर (शहर) नरेंद्र जैन, अतिरिक्त जिला पुलिस अधीक्षक राजेश मीणा, जिला परिवहन अधिकारी डॉ. वीरेंद्र सिंह राठौड़, स्काउट गाइड के छात्रा-छात्राएं सहित विभिन्न संस्थाओं के सदस्य एवं पदाधिकारी सम्मिलित हुए.

सूचना केंद्र चौराहे पर दुर्घटनाओं में मृतकों के प्रति श्रद्धांजलि सभा के आयोजित कार्यक्रम में सुमन सोनी एवं नरेंद्र दाधीच ने सड़क दुर्घटनाओं से बचने की प्रेरणा पर आधारित अपनी काव्यकृति प्रस्तुत की. इस अवसर पर जिला कलेक्टर राजेंद्र भट्ट ने आयोजित कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि मात्र लापरवाही एवं जागरुकता की कमी के कारण दुर्घटनाएं होती हैं. इसके लिए सभी चालकों को हेलमेट एवं सीट बेल्ट का उपयोग करना चाहिए. उन्होंने कहा कि जिले में प्रतिदिन 2 व्यक्तियों की मौत सड़क दुर्घटनाओं के कारण होती हैं, जो गंभीर विषय है.

परिवार के सदस्य अपने बच्चों और वाहन चलाने वाले लोगों को हेलमेट एवं सीट बेल्ट का उपयोग करने के लिए प्रेरित करें. यह संस्कार बालकों में पारिवारिक दृष्टिकोण से भी होना आवश्यक है. उन्होंने कहा कि वाहन चलाते समय धैर्य रखना आवश्यक है. चाहे कितना भी कोई जरुरी काम हो. जान बचना सबसे ज्यादा जरूरी है.

मंडल विधायक एवं भीलवाड़ा डेयरी अध्यक्ष रामलाल जाट ने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि जिला प्रशासन, पुलिस विभाग, परिवहन विभाग, प्रेस क्लब सहित विभिन्न संगठनों द्वारा दुर्घटनाओं को रोकने के लिए जनजागृति की दृष्टि से इस तरह का आयोजन करना एक सामाजिक सरोकार है, जिसे सभी व्यक्तियों का दायित्व है कि वे इसे अधिक से अधिक प्रचारित एवं प्रसारित करें. उन्होंने कहा कि भीलवाड़ा डेयरी की ओर से 15 हजार हेलमेट कुछ निर्धारित शुल्क के साथ वितरित किए जाएंगे. कार्यक्रम को नगर परिषद सभापति ललिता समदानी ने भी संबोधित किया. इस अवसर पर अतिरिक्त जिला कलेक्टर जैन ने कहा कि भीलवाड़ावासियों आप सभी सड़क दुर्घटनाओं के प्रति सजग रहें और लोगों को जागरुक करें.