परिवहन विभाग के गार्ड ने ट्रक को रुकने का किया इशारा, चालक ने स्पीड बढ़ाकर मारी टक्कर

चित्तौडगढ़-अजमेर राजमार्ग (Bhilwara News) पर हजारी खेड़ा के निकट सोमवार सुबह हाईवे पर वाहनों की जांच करते परिवहन विभाग (Transport department) के गार्ड की ट्रक से कुचलने से मौत हो गई. 

परिवहन विभाग के गार्ड ने ट्रक को रुकने का किया इशारा, चालक ने स्पीड बढ़ाकर मारी टक्कर
प्रतीकात्मक तस्वीर

भीलवाड़ा: चित्तौडगढ़-अजमेर राजमार्ग (Bhilwara News) पर हजारी खेड़ा के निकट सोमवार सुबह हाईवे पर वाहनों की जांच करते परिवहन विभाग (Transport department) के गार्ड की ट्रक से कुचलने से मौत हो गई. गार्ड (Guard) परिवहन निरीक्षक के साथ हाईवे पर गया था. डीटीओ डॉ. वीरेंद्र सिंह ने बताया कि हाइवे पर वाहनों की जांच के दौरान पंजाब पासिंग एक ट्रक (Truck ) को झुंझुनूं जिले के निवासी गार्ड राजेन्द्र जाट ने हाथ देकर रोकने का इशारा किया, लेकिन ट्रक चालक ने वाहन रोकने की बजाय ट्रक को तेज गति से भगाने का प्रयास किया, जिससे गार्ड जाट उसकी चपेट (Accident) में आ गया.

परिवहन निरीक्षक भागचंद नवल और दुर्गाशंकर जाट अनुबंध पर कार्यरत एक्स सर्विसमैन सुरक्षा गार्ड झुंझुनूं जिले के निवासी राजेंद्र जाट व अन्य गार्डों के साथ हजारी खेड़ा के निकट सुबह साढ़े नौ से बजे वाहनों की जांच कर रहे थे. इस दौरान राजेन्द्र ने पंजाब पासिंग पीबी 11 सीजे 4012 ट्रक को रुकने का इशारा किया. ट्रक चालक ने वाहन को रोकने के बजाय गति को और तेज कर दिया, जिससे ट्रक की चपेट में चालक राजेन्द्र आ गया और सिर पर गम्भीर चोट लगने पर उसे तत्काल एमजी हॉस्पिटल लाया गया, जहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया. 

जिला परिवहन अधिकारी राठौड़ व पुर थानाप्रभारी मुकेश कुमार मोर्चरी पहुंचे. मृतक के परिजनों को सूचना दी गई. डेढ़ साल में परिवहन विभाग के चौथे गार्ड की मौत हुई है. जिला परिवहन अधिकारी राठौड़ का मानना है कि हाईवे पर जांच में लगे कर्मचारी असुरक्षित हैं. विभाग की ओर से उड़नदस्ते के प्रभारियों को प्रतिदिन पचास हजार रुपए जुर्माना राशि राजस्व के रूप में वसूलने का लक्ष्य दिया जाता है. जिले में चार उड़नदस्ते हैं. औसतन दो लाख रुपए प्रतिदिन वसूले जाते हैं. सोमवार की सुबह हादसे को अंजाम देकर भागे ट्रक को परिवहन विभाग के दूसरे दस्ते ने पीछा कर कुछ दूरी पर पकड़ लिया और पुर थाना पुलिस के सुपुर्द किया गया है.

यह भी पढ़ें- Hanuman Beniwal का बड़ा बयान, बोले - 'मेरी संजीवनी NDA नहीं, किसानों के आएगी काम'