'कौन बनेगा करोड़पति' के स्पेशल सेगमेंट में पहुंचे खास मेहमान, अपनी कहानी से जीता लोगों का दिल

शो के पहले स्पेशल सेगमेंट में डॉ. मंदाकिनी आम्टे और पद्मश्री डॉ. प्रकाश आम्टे कौन बनेगा करोड़पति के सेट पर नजर आए. दोनों सालों से महाराष्ट्र के सुदूर इलाकों में आदिवासियों की सेवा करते आ रहे हैं.

'कौन बनेगा करोड़पति' के स्पेशल सेगमेंट में पहुंचे खास मेहमान, अपनी कहानी से जीता लोगों का दिल

नई दिल्ली: टीवी की दुनिया का पसंदीदा रियलिटी शो 'कौन बनेगा करोड़पति' 3 सितंबर से शुरू हुआ है और शुक्रवार को शो का पहला स्पेशल सेगमेंट ऑन एयर हुआ . इस बार अमिताभ बच्चन द्वारा दो ऐसे लोगों को जनता से रूबरू कराया गया जो पिछले कई सालों से आदिवासियों के लिए काम कर रहे हैं और इसके लिए दोनों ने अपनी सुविधाओं को भी भुला दिया. 

आपको बता दें, शो के पहले स्पेशल सेगमेंट में डॉ. मंदाकिनी आम्टे और पद्मश्री डॉ. प्रकाश आम्टे 'कौन बनेगा करोड़पति' के सेट पर नजर आए. दोनों सालों से महाराष्ट्र के सुदूर इलाकों में आदिवासियों की सेवा करते आ रहे हैं. अमिताभ बच्चन ने उनके बारे में बात करते हुए बताया कि प्रकाश आम्टे और मंदाकिनी आम्टे अब तक कई लाख लोगों की आंखों की रोशनी वापस लाने की दिशा में काम कर चुके हैं और इसमें सफल भी रहे हैं. 

वहीं अपने निजी जीवन के बारे में बात करते हुए प्रकाश आम्टे ने बताया कि वह अपने जीवन में आज तक अपनी पत्नी को एक साड़ी तक खरीद कर नहीं दे पाए हैं लेकिन उनकी पत्नी ने सुपरवुमन की तरह हर स्थिति में उनका साथ दिया. उन्होंने बताया कि उन्होंने शादी के वक्त ही अपनी होने वाली पत्नी मंदाकिनी को कह दिया था कि वो जंगल में जाकर रहेंगे और आदिवासियों के बीच काम करेंगे. ऐसे में कहां रहेंगे और कहां सोएंगे इसका कोई ठिकाना नहीं था. 

हालांकि, दोनों की सालों की मेहनत बर्बाद नहीं हुई और सामाजिक कार्यों के क्षेत्र में दोनों मिल कर काम कर रहे हैं और आगे बढ़ रहे हैं. दोनों हर साल लगभग 40 हजार लोगों को निशुल्क स्वास्थ्य सुविधाएं देते हैं और दोनों ने मिल कर 600 बच्चों की निशुल्क शिक्षा की भी व्यवस्था की है. वहीं गेम की बात करें तो दोनों केबीसी के सेट से 25 लाख रुपये की रकम जीत कर गए हैं. 

बॉलीवुड की और खबरें पढ़ें