मुश्किल नहीं है कोरोना से लड़ने की जंग, लोगों को हिम्मत दे रही इन पॉजिटिव की जिंदादिली

ऐसे में एमडीएम अस्पताल में दोनों को एक ही कमरे में रख इलाज किया जा रहा है. 

मुश्किल नहीं है कोरोना से लड़ने की जंग, लोगों को हिम्मत दे रही इन पॉजिटिव की जिंदादिली
एक ही शहर के होने के कारण लंदन में दोनों की दोस्ती हुई.

जोधपुर: लंदन से जोधपुर लौटे दो दोस्त एक दिन बाद ही कोरोना से संक्रमित पाए गए. दोनों अब हॉस्पिटल के आइसोलेशन वार्ड में हैं, लेकिन वहां भी क्वालिटी टाइम गुजार रहे हैं. दोनों की जिंदादिली का वीडियो भी सामने आया है. युवकों को देखकर लग रहा है कि कोरोना को हराना इतना भी मुश्किल नहीं. इस बीमारी से डरने की नहीं, हिम्मत से लड़ने की जरूरत है.

एक ही शहर के होने के कारण लंदन में दोनों की दोस्ती हुई. दुनिया में बढ़ रहे कोरोना के संक्रमण को देखते हुए दोनों एक साथ पांच दिन पहले ही लंदन से एक ही फ्लाइट से जोधपुर लौट आए. यहां आते ही अपने आप को होम आइसोलेशन में रखा. तीन दिन पहले हाउसिंह बोर्ड निवासी युवक को अस्पताल में भर्ती किया गया. इसके अगले दिन दूसरे दोस्त को भी भर्ती कर लिया गया.

बुधवार को आई जांच रिपोर्ट में हाउसिंग बोर्ड का युवक कोरोना पॉजिटिव पाया गया और शुक्रवार को उसका दोस्त. ऐसे में एमडीएम अस्पताल में दोनों को एक ही कमरे में रख इलाज किया जा रहा है. 

कोरोना पॉजिटिव होने के बावजूद दोनों एक-दूसरे से मस्ती-मजाक कर रहे हैं. उन्होंने सोशल मीडिया पर वीडियो भी जारी किया हालांकि, कुछ देर बाद इसे उन्होंने डिलीट भी कर दिया. वीडियो में पहले दिन पॉजिटिव पाए गए साथी का शुक्रवार को पॉजिटिव पाया गया युवक बड़ी बेबाकी के साथ इंटरव्यू लेते हुए नजर आ रहा है.

हॉस्पिटल की व्यवस्थाओं से संतुष्ट
वीडियो में खाने की थाली के साथ युवक अपने साथी को बता रहा है कि वह यहां मिलने वाले खाने और अन्य सुविधाओं से बेहद खुश है. यहां के डॉक्टरों और अन्य नर्सिंग स्टाफ का व्यवहार वह बहुत अच्छा बता रहा है. उसका कहना है कि यदि उसका बस चले तो वह पूरी तरह से ठीक होने के बावजूद कुछ और दिन यहां ठहरना पसंद करेगा. वीडियो के जरिए इन दोस्तों ने औरों को भी हौसला देने का काम किया है.