उदयपुर ACB की लगातार तीसरी कार्रवाई, अवैध राशि के साथ तहसीलदार को दबोचा

तहसीलदार राठौड़ के खिलाफ लगातार भ्रष्टाचार की शिकायतें मिल रही थी.

उदयपुर ACB की लगातार तीसरी कार्रवाई, अवैध राशि के साथ तहसीलदार को दबोचा
एसीबी मामले में अग्रिम अनुसंधान में जुट गई है.

अविनाश जगनावत, उदयपुर: जिला भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो का डंडा इन दिनों घूसखोरों पर जम कर कहर बरपा रहा है. एसीबी की टीम ने पहले चित्तौड़गढ़ जिले के गंगरार पंचायत समिति बीडीओ रूपसिंह गुर्जर फिर उदयपुर जिले के सायरा थाने के हेड कांस्टेबल शायर अली को रिश्वत लेते रंगे हाथों ट्रेप किया. 

इसके बाद वहीं अब एसीबी ने चित्तौडगढ़ जिले के ही बड़ी सादड़ी के तहसीलदार लक्ष्मी नारायण सिंह राठौड़ को 1.17 लाख रुपये की अवैध राशि के साथ दबोच लिया.

एसीबी एएसपी सुधीर जोशी ने बताया कि मुखबिरों के जरिये बड़ी सादड़ी में कार्यरत तहसीलदार राठौड़ के खिलाफ लगातार भ्रष्टाचार की शिकायतें मिल रही थी. इस पर एसीबी ने अपनी कार्रवाई को तेज किया. इस दौरान टीम को मुखबिर के जरिए सूचना मिली कि तहसीलदार राठौड़ अवैध रूप से वसूली गई राशि को लेकर उदयपुर अपने घर आ रहे हैं. इस पर एसीबी की टीम ने भटेवर के पास नाके बन्दी की. 

इस दौरान एसीबी ने तहसीलदार की बोलेरो गाड़ी को रुकवाया. तलाशी लेने पर एसीबी ने तहसीलदार की जेब से 1,00,500 रुपये और गाड़ी से 16,500 रुपये की नकदी बरामद की. इसके बारे में तहसीलदार राठौड़ कोई संतुष्टपूर्ण जवाब नहीं दे पाए. इस पर एसीबी ने अवैध राशि को जब्त कर लिया. वहीं, एसीबी मामले में अग्रिम अनुसंधान में जुट गई है.

इस टीम ने की कार्रवाई
एएसपी सुधीर जोशी के नेतृत्व में सीआई लक्ष्मण डांगी के साथ जिनेंद्र कुमार, करन सिंह और विकास नागदा ने इस कार्रवाई को अंजाम दिया.