Udaipur के छात्रों ने Canada में मनवाया Talent का लोहा, 12,500 डॉलर का जीता पुरस्कार

कनाडा के शुलिच बिजनेस स्कूल, यॉर्क विश्वविद्यालय की ओर से उद्यमिता बूटकैम्प और वेंचर कैपिटल प्रतियोगिता का आयोजन किया गया था.

Udaipur के छात्रों ने Canada में मनवाया Talent का लोहा, 12,500 डॉलर का जीता पुरस्कार
छात्रों को कनाडा के शुलिच बिजनेस स्कूल में इंक्यूबेशन का मौका भी मिलेगा.

अविनाश जगनावत, उदयपुर: टेक्नो इंडिया एनजेआर (Techno India NJR) के छात्रों लोकेश पुरी गोस्वामी (Lokesh Puri Goswami) और कुंजप्रीत अरोड़ा (Kunjpreet Arora) ने कनाडा (Canada) में आयोजित हुई ऑनलाइन प्रतियोगिता में दूसरा स्थान हासिल किया है. 

यह भी पढ़ें- Ajay Garg के हौसलों से पस्त हुई दिव्यांगता, टिकट संग्रह के शौक ने कर दिया मशहूर!

दरअसल, कनाडा के शुलिच बिजनेस स्कूल, यॉर्क विश्वविद्यालय की ओर से उद्यमिता बूटकैम्प और वेंचर कैपिटल प्रतियोगिता का आयोजन किया गया, जिसमें इन दोनों छात्रों ने द्वितीय स्थान प्राप्त किया. इसके तहत स्टार्टअप को 12,500 कैनेडियन डॉलर का पुरस्कार मिला है. साथ ही उन्हें कनाडा के शुलिच बिजनेस स्कूल में इंक्यूबेशन का मौका भी मिलेगा. 

व्रिक्स इनोवेटिव और स्वयं द्वारा पेटेंट की हुई तकनीकी के उपयोग से वेस्ट मैटेरियल जैसे पानी की बोतल का प्लास्टिक, पुराने भवनों को तोड़ने और नए निर्माण के दौरान निकले मलबे, मार्बल स्लरी आदि से उच्च गुणवत्ता वाली ईटें, पेवर ब्लॉक्स और अन्य भवन निर्माण सामग्री बनाते हैं. इस तकनीकी से सब तरफ फैले कचरे के साथ मिट्टी की ईंटें बनाने से होने वाले प्रदूषण से भी निजात मिल जाएगी. 

इस तकनीकी का बड़े पैमाने पर उपयोग उदयपुर को कचरे और प्रदूषण मुक्त करके स्मार्ट सिटी बनाने की दिशा में एक महत्वपूर्ण कदम होगा. इस स्टार्टअप को बिजनेस में विकसित करने एमएचआरडी के इनोवेशन सेल से व्रिक्स को 10 लाख रुपये फंडिंग प्राप्त हुई है.