Banswara में 10 दिन बाद मिला 1 कोरोना संक्रमित, विभाग ने तेज की रैंडम सैंपलिंग

उदयपुर के बांसवाड़ा में रैंडम सैंपलिंग के दौरान भंवरखेडा गांव में एक व्यक्ति कोरोना पॉजिटिव निकला, जिसके चलते हड़कंप मच गया.

Banswara में 10 दिन बाद मिला 1 कोरोना संक्रमित, विभाग ने तेज की रैंडम सैंपलिंग
प्रतीकात्मक तस्वीर.

Banswara: कोरोना (Corona) की दूसरी लहर के बाद पूरे प्रदेश में अनलॉक जारी हुआ. तरह-तरह के नफा-नुकसान को देखते हुए सख्त गाइडलाइन के साथ बाजारों से लेकर लगभग सभी संस्थानों को खोल दिया. इसके बावजूद लोग कोरोना गाइडलाइन का पूर्णतया पालन नहीं कर रहे हैं.

यह भी पढे़ं- Rajasthan में तेजी से बढ़ रहा Corona की तीसरी लहर का खतरा, सामने आई यह बड़ी वजह

 

कोरोना की तीसरी संभावित लहर के चलते राजस्थान (Rajasthan) में वैक्सीनेशन कैंपेन (Vaccination campaign) चलाया जा रहा है. वहीं, उदयपुर के बांसवाड़ा में रैंडम सैंपलिंग के दौरान भंवरखेडा गांव में एक व्यक्ति कोरोना पॉजिटिव निकला, जिसके चलते हड़कंप मच गया. बता दें कि जिले में 10 दिन बाद 1 पॉजिटिव मरीज आया है. इसके बाद से स्वास्थ्य विभाग की रैंडम सैंपलिंग जारी है.

यह भी पढे़ं- हर्षवर्धन ने रघु शर्मा को लिखा पत्र, कहा-वैक्सीन के बर्बादी की खबर की कराएं जांच

 

90 प्रतिशत लोगों को वैक्सीन लगनी जरूरी
बता दें कि विशेषज्ञ मानते हैं कि जब तक 90 फ़ीसदी लोगों को वैक्सीन नहीं लगेगी, तब तक संक्रमण के खतरे से बचा नहीं जा सकता है लेकिन वैक्सीन की उपलब्धता डिमांड के हिसाब से न होने पर राजस्थान में सात महीने में सिर्फ 14 फीसदी लोगों को ही वैक्सीन की दोनों डोज लग पायी है और महज 47.7 फ़ीसदी लोगों को वैक्सीन की पहली डोज लग पायी है.

Reporter- Ajay Ojha