100 प्रतिशत वैक्सीनेशन वाली पहली पंचायत बन गई Dungarpur की भीलूडा पंचायत, बनी मिसाल

 आदिवासी अंचल (Tribal Block) में वैक्सीनेशन को लेकर लोगों में अजीब सा डर समाया हुआ था. 

100 प्रतिशत वैक्सीनेशन वाली पहली पंचायत बन गई Dungarpur की भीलूडा पंचायत, बनी मिसाल
प्रतीकात्मक तस्वीर.

Dungarpur: कोरोना (Covid-19) से बचाव को लेकर जहां अभी सरकार और प्रशासन लगातार मुहिम चला रही है. वहीं, इस बीच एक अच्छी खबर डूंगरपुर जिले की भीलूडा पंचायत की है, जहां न केवल अबतक 100 प्रतिशत वैक्सीनेशन हो गया है बल्कि आदिवासी भी इस मुहिम को सफल बनाने के अंतिम पायदान पर खड़े हैं. इस बात की चर्चा पूरे शहर और आस-पास के इलाकों में खूब हो रही है.

यह भी पढे़ं- अनाथ बच्चों को लिए जीवनदायिनी साबित हो रहा Dungarpur का राजकीय शिशु गृह

 

मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी (Chief Medical Officer) डॉ. राजेश शर्मा (Dr. Rajesh Sharma) की मानें तो कोरोना की पहली और दूसरी लहर के दौरान यहां के लोग न तो सोशल डिस्टेंसिंग (Social Distancing) का पालन करते और न ही साफ-सफाई का ही ध्यान रखते थे. आदिवासी अंचल (Tribal Block) में वैक्सीनेशन को लेकर लोगों में अजीब सा डर समाया हुआ था. वैक्सीन लगने से नपुसंकता, मौत जैसे डर इन लोगों के मन में समाया हुआ था लेकिन अब ये इलाका चिकित्सा विभाग के जागरूकता की मदद से 100 प्रतिशत वैक्सीनेशन के लक्ष्य को पूरा कर लिया है. प्रशासन द्वारा लगातार जारी मुहिम ने आखिरकार रंग लाईं और आज ये 100% वैक्सीनेशन वाली पहली पंचायत बन गई.

यह भी पढे़ं- Dungarpur: अधिकारियों की लापरवाही के चलते रुकी हजारों लाभार्थियों की पेंशन, उठे सवाल

 

पंचायत में अधिकांशतः कम पढ़े लिखे लोग
आश्चर्य की बात यह है कि भीलूड़ा पंचायत में अधिकांश लोग कम-पढ़े लिखे और मजदूरी पेशा वाले लोग हैं. गुजरात, महाराष्ट्र में चाय बेचने का व्यवसाय करने वाले हैं. पंचायत की कुल आबादी 6596 है, जिसमें से 18 प्लस के 5513 लोगों का वैक्सीनेशन हो चुका है. वहीं, गांव के 62 लोग प्रवासी हैं. 1021 लोगों की उम्र 18 वर्ष की आयु से कम है यानी चाय बेचने वाले कम पढ़े लिखे लोग, ज्यादा पढ़े लिखे और नौकरीपेशा लोगों से कहीं ज्यादा समझदार निकले हैं, जिन्होंने सबसे आगे रहते हुए खुद को कोरोना संक्रमण से पूरी तरह महफूज कर लिया है. अब जरूरत है अन्य पंचायतें भी भीलूडा पंचायत से प्रेरणा लेकर अपने यहां शत प्रतिशत कोरोना वैक्सीनेशन करवाएं.

6 संक्रमित मरीजों की हो गई थी मौत
बतातें चलें कि कोरोना की दूसरी लहर में भीलूड़ा समेत उसके आसपास की 6 पंचायतों में कोरोना का संक्रमण ज्यादा फैला. भीलूडा, जेठाना, ओजरी, सेलोता, दिवड़ा बड़ा, फ़लातेड़,, सेमलिया पंचायत में दूसरी लहर में 214 संक्रमित केस सामने आए, जिसमें से 6 संक्रमित मरीजों की मौत भी हो गई थीं. 

बहरहाल, डूंगरपुर जिला कोरोना की दूसरी लहर से पूरी तरह कोरोना मुक्त हो चुका है. वहीं, स्वास्थ्य विभाग की ओर से वैक्सीनेशन की चर्चा जोरों पर है. इधर भीलूडा में सौ प्रतिशत वैक्सीनेशन करवाकर पंचायत और स्वास्थ्य विभाग ने मिसाल की एक लम्बी लकीर खींची है.

Reporter- Akhilesh Sharma