COVID टीकाकरण में Pratapgarh अव्वल, चिकित्सा विभाग पूरी तरह से सतर्क
X

COVID टीकाकरण में Pratapgarh अव्वल, चिकित्सा विभाग पूरी तरह से सतर्क

आदिवासी बाहुल्य क्षेत्र होने के चलते इस लक्ष्य को प्राप्त करना चिकित्सा विभाग के लिए भी किसी चुनौती से कम नहीं था. जिले की इस उपलब्धि पर कलक्टर प्रकाश चंद्र शर्मा ने सभी को बधाई दी है.

COVID टीकाकरण में Pratapgarh अव्वल, चिकित्सा विभाग पूरी तरह से सतर्क

Pratapgarh: जिले ने प्रथम डोज में शत प्रतिशत टीकाकरण (vaccination) कर प्रदेश में पहला स्थान हासिल करने का गौरव प्राप्त करने के बाद अब द्वितीय डोज में भी प्रदेश में पहले स्थान पर आ गया है. इस लक्ष्य को प्राप्त करने में जिले के चिकित्सा अधिकारियों (medical officers) के साथ ही प्रशासनिक अधिकारियों का मार्ग निर्देशन भी काफी महत्वपूर्ण रहा. आदिवासी बाहुल्य क्षेत्र होने के चलते इस लक्ष्य को प्राप्त करना चिकित्सा विभाग के लिए भी किसी चुनौती से कम नहीं था. जिले की इस उपलब्धि पर कलक्टर प्रकाश चंद्र शर्मा ने सभी को बधाई दी है.

प्रतापगढ़ जिले (Pratapgarh News) में चिकित्सा विभाग ने सीएमएचओ डॉ. वीडी मीणा के नेत्रत्व में चिकित्सा कर्मियों ने दिन रात टीकाकरण को मिशन की तरह चलाया. चिकित्सा विभाग की मेहनत का ही परिणाम है कि जिले के प्रतापगढ़, धरियावद, पीपलखूंट, छोटीसादड़ी और अरनोद ब्लॉक में अब 100% लोगों को कोरोना वैक्सीन (Corona vaccine) की पहली डोज लग चुकी है. दूसरी डोज में भी अब प्रतापगढ़ अजमेर को पीछे छोड़ कर 67 प्रतिशत के साथ प्रदेश में पहले स्थान पर आ गया है. 

यह भी पढ़ें- Rajasthan के डूंगरपुर में मनाया गया विश्व शौचालय दिवस, स्वच्छता का दिया संदेश

आकंड़ों के मुताबिक यहां 4 लाख 3 हजार 77 लोग पूरी तरह से वैक्सीन के जरिए प्रतिरक्षित हो चुके है. विशेषज्ञों की मानें तो इस हिसाब से यहां की आधे से ज्यादा पात्र आबादी कोरोना (Covid) की पकड़ से दूर हो गई है. वहीं, प्रथम डोज के मामले में 6 लाख 58 हजार 7 सौ 57 को प्रथम डोज लग चुकी है. 

जिले के भौगोलिक क्षेत्र के चलते चिकित्सा कर्मियों (medical personnel) को यह लक्ष्य हासिल करने के लिए काफी परेशानियों का भी सामना करना पड़ा. आदिवासी बाहुल्य क्षेत्र होने और बड़ी संख्या में लोगों के वन क्षेत्र में रहने के चलते यहां पहुंचना भी चिकित्सा कर्मियों के लिए टेढ़ी खीर था, लेकिन लक्ष्य हासिल करने के लिए चिकित्सा कर्मियों ने जिले में विभिन्न जगहों पर जबरदस्त उत्साह दिखाया.

यह भी पढ़ें- Chittorgarh: कपासन में 48 घंटों से हो रही मावठ की बारिश, अफीम किसानों के लिए बनी आफत

इतना ही नहीं वर्तमान में एक बार फिर कोरोना (Corona) की आशंका को देखते हुए चिकित्सा विभाग पूरी तरह से सतर्क भी है. इसको लेकर के टीकाकरण के साथ ही सैंपलिंग का कार्य भी किया जा रहा है, साथ ही डेंगू (Dengue) से निपटने के भी प्रयासों में लगा हुआ है. चिकित्सा विभाग की मेहनत का ही परिणाम है कि जिले में डेंगू अपना खास असर नहीं दिखा पाया.

आदिवासी बाहुल्य क्षेत्र के रूप में पहचान रखने वाला प्रतापगढ़ जिला शत प्रतिशत वैक्सीनेशन कर प्रदेश का पहला जिला बनने का गौरव हासिल किया था. वहीं, अब जिला दूसरी डोज में भी प्रदेश (Rajasthan News) में पहले स्थान पर पहुंच चुका है. ऐसे में वह दिन भी दूर नहीं जब जिला दोनों ही डोज में शत प्रतिशत लक्ष हासिल करने वाला पहला जिला बन जाए.
Report- Vivek Upadhyay

Trending news