close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

जयपुर में ठाकुरजी को गर्मी से बचाने के लिए भक्तों ने किए अनोखे प्रयास

गर्भगृह में नमी रखने के लिए फूल बंगला सजाया जा रहा है. मिट्टी के बर्तनों में सुगंधित जल भरकर भी रखा जा रहा है. यहां तक कि ठंडे व्यंजन और शीतल पेय का ही भोग भी लगाया जा रहा है. 

जयपुर में ठाकुरजी को गर्मी से बचाने के लिए भक्तों ने किए अनोखे प्रयास
ठाकुरजी को मलमल व सूती पोशाक भी प्रतिदिन धारण कराई जा रही है.

जयपुर: प्रदेश में तेज गर्मी के कारण गुलाबी नगरी के मंदिरों में ठाकुरजी को गर्मी तपन से बचाने के प्रयास तेज कर दिए गए हैं. ठाकुरजी के विभिन्न मंदिरों के गर्भ गृहों में एयर कंडीशनर लगाए गए हैं तो कहीं पपरंपरागत तरीकों को भी अपनाया गया है. साथ ही ठाकुरजी को ठंडक पहुंचाने के लिए ठंडे पानी के फव्वारे लगाए गए हैं. पूरा ऋंगार भी चंदन लेपन से ही किया जा रहा है.

वहीं गर्भगृह में नमी रखने के लिए फूल बंगला सजाया जा रहा है. मिट्टी के बर्तनों में सुगंधित जल भरकर भी रखा जा रहा है. यहां तक कि ठंडे व्यंजन और शीतल पेय का ही भोग भी लगाया जा रहा है. मौसम के अनुसार ठाकुरजी को मलमल व सूती पोशाक भी प्रतिदिन धारण कराई जा रही है. शहर के आराध्य गोविंददेवजी मंदिर में बुधवार को जल यात्रा झांकी उत्सव मनाया गया. यह उत्सव दोपहर 12:30 से एक बजे तक मनाया गया.

साथ ही शीतलता प्रदान करने के लिए इसमें ठाकुरजी के चारों तरफ रियासतकालीन तांबे के रिमझिम फव्वारे लगाए गए. जल यात्रा झांकी के दौरान ठाकुरजी ने सफेद धोती और दुपट्टा धारण कराए गए. मोगरे की कली से ठाकुरजी का नयनाभिराम शृंगार किया गया. झांकी के दौरान भोग के लिए पांच मिनट पट मंगल रहे. ठाकुरजी को ऋतु फलों के साथ हलवा-पूड़ी का भोग अर्पित किया गया. झांकी के दौरान केवड़े जल से गर्भगृह और जगमोहन महक उठा.

वहीं ठाकुरजी के विग्रह पर से होते हुए जो जल फर्श पर एकत्र हुआ वह श्रद्धालुओं को चरणामृत के रूप में रूप में वितरित किया गया. झांकी के दौरान कुछ जल मंदिर के पीछे जय निवास उद्यान की तरफ भी निकाला गया. साथ ही जल की धार के नीचे बैठकर श्रद्धालुओं ने स्नान किया. गौरतलब है कि राजस्थान में भीषण गर्मी का प्रकोप लगातार जारी है. वहीं मौसम विभाग ने अगले तीन दिनों तक भीषण लू चलने की चेतावनी दी है. 

मौसम विभाग ने प्रदेश के एक दर्जन से ज्यादा जिलों में जारी की चेतावनी दी है. विभाग ने पूर्वी और पश्चिमी राजस्थान में रेड अलर्ट जारी किया है. खबर के मुताबिक पूर्वी राजस्थान के बारां, बूंदी, झालावाड़, झुंझनूं, करौली, कोटा, सवाईमाधोपुर, टोंक, अजमेर, अलवर, भीलवाड़ा, धौलपुर, जयपुर, सीकर, दौसा, भरतपुर में मौसम विभाग ने अगले चार दिनों तक भीषण लू चलने की चेतावनी जारी की है.