सिर्फ इसलिए...क्योंकि मैं इस देश की बेटी हूं?

मैं इस देश की बेटी हूं...मैं सबकुछ सहती हूं...पल-पल मरती हूं...मैं बेबस हूं...मैं बदहवास हूं....ये मेरी बदकिस्मती है...हैदराबाद में गैंगरेप के बाद मेरी निर्मम हत्या से पूरा हिंदुस्तान गुस्से में है। रांची में मेरे साथ गैंगरेप की वारदात से पूरा मुल्क गुस्से में है। राजस्थान के टोंक में स्कूल से लौटते वक्त मेरे साथ हुए रेप और हत्या से हर कोई सकते में है...लेकिन फिर भी मेरा मुकद्दर वही है...मुझे हर पल मरना है...मुझे इस देश की बेटी होने का खामियाजा भुगतना है....

Dec 3, 2019, 08:42 PM IST

ट्रेंडिंग न्यूज़

आज वह 'खस्‍ताहाल' बस बता रही है अपना खौफनाक इतिहास, जिसमें हुआ था निर्भया कांड

आज वह 'खस्‍ताहाल' बस बता रही है अपना खौफनाक इतिहास, जिसमें हुआ था निर्भया कांड

शिवसेना ने कांग्रेस को दी नसीहत, कहा- महाराष्ट्र और देश के लिए देवता हैं वीर सावरकर

शिवसेना ने कांग्रेस को दी नसीहत, कहा- महाराष्ट्र और देश के लिए देवता हैं वीर सावरकर

राहुल बोले- 'मेरा नाम राहुल सावरकर नहीं, राहुल गांधी है, मैं माफी नहीं मांगूंगा'

राहुल बोले- 'मेरा नाम राहुल सावरकर नहीं, राहुल गांधी है, मैं माफी नहीं मांगूंगा'

बंगला साहिब गुरुद्वारे में पक गई 'प्लास्टिक की दाल', परोसने से पहले फेंकी गई

बंगला साहिब गुरुद्वारे में पक गई 'प्लास्टिक की दाल', परोसने से पहले फेंकी गई

कांग्रेस की भारत बचाओ रैली में राहुल गांधी के भाषण के कई झोल, प्‍याज को बताया 200 रुपये किलो और...

कांग्रेस की भारत बचाओ रैली में राहुल गांधी के भाषण के कई झोल, प्‍याज को बताया 200 रुपये किलो और...

 प्री वेडिंग शूट पर बवाल, उठी बैन की मांग, जानें क्या है मामला?

प्री वेडिंग शूट पर बवाल, उठी बैन की मांग, जानें क्या है मामला?

रैली में पन्ने पढ़ने से भारत नहीं बचता, कब समझेगी कांग्रेस

रैली में पन्ने पढ़ने से भारत नहीं बचता, कब समझेगी कांग्रेस

जाकिर नाइक को मालदीव ने नहीं दी एंट्री, कहा- नफरत फैलाने वालों को इजाजत नहीं देते

जाकिर नाइक को मालदीव ने नहीं दी एंट्री, कहा- नफरत फैलाने वालों को इजाजत नहीं देते

सुबह पति ने मेट्रो के सामने कूदकर दी जान, शाम को पत्नी ने बेटी संग लगा ली फांसी

सुबह पति ने मेट्रो के सामने कूदकर दी जान, शाम को पत्नी ने बेटी संग लगा ली फांसी

उद्धव सरकार के लिए गले की हड्डी बना नागरिकता कानून, आखिर शिवसेना करे तो क्या करे?

उद्धव सरकार के लिए गले की हड्डी बना नागरिकता कानून, आखिर शिवसेना करे तो क्या करे?