कोटा: मौत के 6 दिन बाद वृद्धा को नहीं मिला इंसाफ, ग्रामीणों ने जमकर काटा हंगामा

 बुधवार रात समय पर ऑक्सीजन गैस नहीं मिलने से एक वृद्धा की मौत हो गई थी. मामले के 6 दिन गुजर जाने के बाद भी विभागीय स्तर पर दोषी कर्मचारियों के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं हुई. 

कोटा: मौत के 6 दिन बाद वृद्धा को नहीं मिला इंसाफ, ग्रामीणों ने जमकर काटा हंगामा
ग्रामीणों ने मामले की जांच उच्च अधिकारियों से करवाने की मांग की.

हेमंत, कोटा: जिले के सुल्तानपुर में समय पर ऑक्सीजन गैस नहीं मिलने से वृद्धा की मौत के मामले में कार्रवाई नहीं होने से खफा ग्रामीणों और बीजेपी कार्यकर्ताओं ने विरोध प्रदर्शन किया. 

कार्यकर्ताओं ने ब्लॉक सीएमएचओ का घेराव करते हुए उन्हें खूब खरी-खोटी सुनाई. सूचना के बाद एसडीएम समेत पुलिस अधिकारी भी मौके पर पहुंचे और कार्यकर्ताओं से समझाइश की तब जाकर मामला शांत हुआ.

चिकित्सालय परिसर में नारेबाजी करते कार्यकर्ता अस्पताल प्रशासन की नाकामी पर विरोध जता रहे हैं. यहां अस्पताल में बुधवार रात समय पर ऑक्सीजन गैस नहीं मिलने से एक वृद्धा की मौत हो गई थी. मामले के 6 दिन गुजर जाने के बाद भी विभागीय स्तर पर दोषी कर्मचारियों के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं हुई. 

इसके विरोध में बड़ी संख्या में बीजेपी कार्यकर्ता अस्पताल पहुंचे और जमकर नारेबाजी की और धरना देकर बैठ गए. इस दौरान ब्लॉक सीएमएचओ द्वारा ग्रामीणों से समझाइश के दौरान चिकित्सालय में घटना के समय कार्यरत कर्मचारियों को ऑक्सीजन गैस सिलेंडर नहीं चलाने की बात कह दी. 

इस पर सभी और अधिक भड़क गए और ब्लॉक सीएमएचओ पर लापरवाही का आरोप लगाने लगे. सुल्तानपुर पुलिस ओर दीगोद उपखंड अधिकारी जब्बर सिंह मौके पर पहुंचे और ग्रामीणों की समस्या सुनी. ग्रामीणों ने मामले की जांच उच्च अधिकारियों से करवाने की मांग की.