हेरिटेज नगर निगम के लिए गुरुवार को वोटिंग, BJP के कई धुरंधरों की प्रतिष्ठा दांव पर

पूर्व विधायक सुरेंद्र पारीक और मोहन लाल गुप्ता की प्रतिष्ठा को भी इस चुनाव से जोड़कर देखा जा रहा है. 

हेरिटेज नगर निगम के लिए गुरुवार को वोटिंग, BJP के कई धुरंधरों की प्रतिष्ठा दांव पर
प्रतीकात्मक तस्वीर.

जयपुर: हेरिटेज नगर निगम (Heritage Municipal Corporation) के लिए वोटिंग गुरुवार को होगी और इस चुनाव में बीजेपी (BJP) के कई धुरंधरों की प्रतिष्ठा दांव पर मानी जा रही है. इसमें सबसे बड़ा नाम बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष सतीश पूनिया (Satish Poonia) का है. 

पूनिया के विधानसभा क्षेत्र आमेर से 4 वार्ड ऐसे हैं, जो हेरिटेज नगर निगम में शामिल हैं. इसके साथ ही दो पूर्व प्रदेश अध्यक्ष के क्षेत्र में भी पार्टी की परफॉर्मेंस पर सबकी नजर रहेगी. इसमें अरुण चतुर्वेदी (Arun Chaturvedi) और अशोक परनामी (Ashok Parnami) का नाम शामिल है. अरुण चतुर्वेदी सिविल लाइन से तो अशोक परनामी आदर्श नगर से विधायक रहे हैं. 

यह भी पढ़ें- गहलोत-वसुंधरा के गठबंधन को पंचायतीराज चुनाव में बेनकाब करेगी RLP: हनुमान बेनीवाल

पूर्व विधायक सुरेंद्र पारीक और मोहन लाल गुप्ता की प्रतिष्ठा को भी इस चुनाव से जोड़कर देखा जा रहा है. मोहनलाल गुप्ता तो पूर्व में जिलाध्यक्ष भी रहे हैं. हालांकि जयपुर हेरिटेज में विधायक के नजरिए से देखें तो बीजेपी के एकमात्र विधायक सतीश पूनिया ही हैं, जबकि अन्य चार विधायक 2018 के विधानसभा चुनाव में अपनी सीट गंवा चुके हैं. हालांकि साल 2019 में हुए लोकसभा चुनाव में आदर्श नगर को छोड़कर बीजेपी को शेष चारों विधानसभा सीट पर बढ़त मिली थी, जिसमें आमेर, हवामहल, सिविल लाइन और किशनपोल शामिल हैं. 

इसके साथ ही पूर्व उपमहापौर मनोज भारद्वाज और मनीष पारीक के क्षेत्र में पार्टी के प्रदर्शन पर भी सबकी नजर रहेगी हालांकि पूर्व मंत्री और प्रदेशाध्यक्ष रहे अरुण चतुर्वेदी का कहना है कि बीजेपी में पूरा संगठन एकजुट होकर चुनाव लड़ता है. पार्टी के लिए कोई भी चुनाव किसी व्यक्ति की प्रतिष्ठा नहीं बल्कि संगठन कौशल और एकजुटता से लड़ा जाता है.