भंवरलाल मेघवाल का निधन कांग्रेस के लिए बड़ी क्षति, हमने एक जननेता खो दिया: मुनेश गुर्जर

मेयर मुनेश गुर्जर ने कहा कि आज हम सब निशब्द है. क्योंकि हमने एक जननेता खो दिया है. ये हम सभी के लिए बड़ी क्षति है. 

भंवरलाल मेघवाल का निधन कांग्रेस के लिए बड़ी क्षति, हमने एक जननेता खो दिया: मुनेश गुर्जर
मास्टर भंवरलाल मेघवाल ने सोमवार को अंतिम सांस ली. (फाइल फोटो)

दीपक गोयल/जयपुर: राजस्थान सरकार के मंत्री मास्टर भंवर लाल मेघवाल के निधन पर जयपुर हेरिटेज नगर निगम में उन्हें श्रद्धांजलि दी गई. मेयर मुनेश गुर्जर, डिप्टी मेयर असलम फारुकी, पार्षद मनोज मुदगल समेत अन्य पार्षदों और अधिकारी, कर्मचारियों ने उन्हें श्रद्धांजलि दी.

मेघवाल के चित्र पर पुष्प अर्पित कर सभी ने दिवंगत आत्मा की शांति के लिए प्रार्थना की और 2 मिनट का मौन भी रखा. इस दौरान मेयर मुनेश गुर्जर ने कहा कि आज हम सब निशब्द है. क्योंकि हमने एक जननेता खो दिया है. ये हम सभी के लिए बड़ी क्षति है. वहीं, डिप्टी मेयर असलम फारुकी ने कहा कि मास्टर भंवरलाल मेघवाल ने दलितों समेत हर वर्ग के उत्थान के लिए कई काम किए हैं.

बता दें कि राजस्थान के सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री मास्टर भंवरलाल मेघवाल का सोमवार को निधन हो गया. वे लंबे समय से वेंटिलेटर पर थे. उनका निधन गुरुग्राम के मेदांता अस्पताल में हुआ. जानकारी के अनुसार, 10 अप्रैल से ही वे मेदांता अस्पताल में भर्ती थे. हाल ही में उनकी बेटी बनारसी देवी का भी निधन हो गया था. बनारसी देवी भी कांग्रेस नेता थीं. भंवरलाल मेघवाल के निधन से राजस्थान कांग्रेस को बड़ा झटका लगा है. 

वहीं, मेघवाल के निधन के बाद अब राजस्थान में विधानसभा की 2 सीटें खाली हो गई हैं. कुछ समय पहले भीलवाड़ा जिले के सहाड़ा विधायक कैलाश त्रिवेदी की कोरोना से मौत हो गई थी. भंवरलाल मेघवाल की पहचान दलित नेता के तौर पर थी. वे चूरु जिले के सुजानगढ़ विधानसभा क्षेत्र से विधायक थे. मेघवाल राजस्थान सरकार में शिक्षा मंत्री भी रहे थे.