बाड़मेर: गरीबों के हिस्से का गेहूं बीच रास्ते में हो रहा चोरी, विभाग ने दिए जांच के आदेश

सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है. जिसमें राशन डीलरों को सप्लाई होने वाले गेहूं को बीच रास्ते में ही चोरी कर रहे हैं.

बाड़मेर: गरीबों के हिस्से का गेहूं बीच रास्ते में हो रहा चोरी, विभाग ने दिए जांच के आदेश
राशन डीलरों को सप्लाई होने वाला गेहूं बीच रास्ते में ही चोरी किया जा रहा है.

भूपेश आचार्य/बाड़मेर: गरीबों को सरकार की ओर से दी जाने वाली राशन सामग्री को बीच रास्ते में कैसे उसे ठिकाने लगाया जा रहा है, इससे जुड़ा एक मामला बाड़मेर के मोकलसर से सामने आया है. यहां पर राशन डीलरों को सप्लाई होने वाला गेहूं बीच रास्ते में ही चोरी किया जा रहा है.

इसका वीडियो सोशल मीडिया (Social Media) पर वायरल हो रहा है. जिसको देखने के बाद लोग अपनी अलग-अलग प्रतिक्रियाएं दे रहे हैं. गरीबों के हिस्से का गेहूं बीच रास्ते में ही इस तरह से चोरी होना अपने आप में कई तरह के सवाल खड़े कर रहा है.

दरअसल, सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है. जिसमें राशन डीलरों को सप्लाई होने वाले गेहूं को बीच रास्ते में ही चोरी कर रहे हैं. वीडियो वायरल होने के बाद किसी तरह की कोई कार्रवाई नहीं हुई. मोकलसर चौकी ने ट्रक पकड़ने के बाद उसे छोड़ दिया.

जानकारी के अनुसार, जालोर गोदाम से गेहूं से भरा ट्रक सप्लाई के लिए राखी गांव में राशन दुकान जा रहा था. राशन सामग्री की सप्लाई करने वाले वाहन चालक और खलासी मोकलसर के पास सड़क किनारे ट्रक को खड़ा करके गेहूं के कट्टों से गेहूं निकाल रहे थे, जिसका वीडियो वायरल हुआ है.

इस मामले को लेकर कार्यवाहक जिला रसद अधिकारी रमेश कुमार विश्नोई ने बताया कि वायरल वीडियो के संबंध में राशन डीलर से रिपोर्ट देने की बात कही है. साथ ही गेहूं सप्लाई करने वाली ट्रांसपोर्ट से भी जवाब मांगा है. जानकारी के मुताबिक, जालोर गोदाम से राशन के गेहूं से भरा ट्रक सप्लाई के लिए राखी राशन की दुकान जाना था और उसके बीच किसी जगह पर ट्रक को खड़ा करके यह गेहूं निकाला जा रहा था. हालांकि, राशन विक्रेता और किसी अन्य की ओर से कोई शिकायत दर्ज नहीं करवाई गई है. बरहाल वायरल वीडियो के बाद रसद विभाग ने जांच के आदेश दिए हैं.