अलवर में नसबंदी ऑपरेशन के बाद बिगड़ी महिला की तबीयत, मौत

सामुदायिक स्वास्थ्य केंद में नसबंदी शिविर के दौरान नसबंदी ऑपरेशन के बाद महिला की तबियत बिगड़ने पर जयपुर के अस्पताल में भर्ती कराया गया था. 

अलवर में नसबंदी ऑपरेशन के बाद बिगड़ी महिला की तबीयत, मौत
नसबंदी का ऑपरेशन अलवर से आए डॉक्टरो द्वारा किया गया था.

अलवर: किशनगढ़बास विधानसभा क्षेत्र के खैरथल कस्बे में नसबंदी के दौरान चिकित्सको के द्वारा लापरवाही का मामला सामने आया है. जानकारी के अनुसार वार्ड नंबर 3 निवासी परिता पत्नी रामस्वरूप जाति बंजारा उम्र 26 साल की महिला की नसबंदी के बाद मौत हो गई.

खबर के मुताबिक, सामुदायिक स्वास्थ्य केंद में नसबंदी शिविर के दौरान नसबंदी ऑपरेशन के बाद महिला की तबियत बिगड़ने पर जयपुर के अस्पताल में भर्ती कराया गया था. जहां उपचार के दौरान महिला की मौत हो गई. मृतका परिता के परिजनों ने बताया कि 29 नवंबर को सीएचसी खैरथल में एफ.आर.एच.एस. इंडिया एनजीओ द्वारा नसबंदी शिविर लगाया गया था.

जानकारी के मुताबिक, नसबंदी का ऑपरेशन अलवर से आए डॉक्टरो द्वारा किया गया था. ऑपरेशन के बाद मृतका महिला को उल्टी व पेट दर्द की शिकायत होने पर परिजन उसे सीएचसी खैरथल लेकर आए, जहां डॉक्टरों ने उसका उपचार किया. लेकिन तबीयत ज्यादा बिगड़ने पर परिजन उसे अलवर अस्पताल लेकर पहुंचे. जिसके बाद महिला परिता को जयपुर रेफर कर दिया गया और जयपुर के अस्पताल में 7 दिसंबर को इलाज के दौरान महिला परिता की मौत हो गई.

परिजनों ने डाक्टर पर लापरवाही बरतने का आरोप लगाते हुए कहा कि जब तक दोषी डॉक्टर के खिलाफ कार्यवाही नहीं होगी. उन्हें मुआवजा नहीं मिलेगा तब तक मृतका का अंतिम संस्कार नहीं किया जाएगा.