अलवर: शराब के ठेके में आग लगने से युवक की मौत, ठेकेदार पर हत्या का केस दर्ज

परिजनों ने बताया कि मृतक अपनी नौकरी के पैसे लेने के लिए ठेकेदार के पास गया था. उसके बाद यह घटना घटित हुई.

अलवर: शराब के ठेके में आग लगने से युवक की मौत, ठेकेदार पर हत्या का केस दर्ज
शराब के ठेके में आग लगने से युवक की मौत. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

जुगल किशोर गांधी/अलवर: खैरथल थानांतर्गत कूमपुर में एक कंटेनर में चल रहे शराब के ठेके में आग लगने से अंदर मौजूद सेल्समेन जिंदा जल गया. मृतक के परिजनों ने इसे हत्या बताते हुए ठेकेदार के खिलाफ मामला दर्ज कराया है. परिजनों को आरोप है कि उसे अंदर बंदकर पेट्रोल डाल कर आग लगाई गई है. घटना की सूचना पर खैरथल थाना पुलिस मौके पर पहुंची और शव को बाहर निकलवाया और पोस्टमार्टम के लिए मोर्चरी भेजवा दिया.

जानकारी के अनुसार, मृतक कमल किशोर (22)  कुमपुर स्थित शराब के ठेके पर सेल्समैन की नौकरी करता था. परिजनों ने बताया कि कमल किशोर शराब ठेकेदार राकेश यादव के पास सेल्समैन की नौकरी करता था. जिसकी बीती रात्रि को गांव कुमपुर में लोहे के कंटेनर में चल रहे ठेके में सेल्समैन कमल किशोर को बंद कर दिया और बाहर से ताला लगा दिया. इसके बाद पेट्रोल छिड़ककर आग लगा दी.

वहीं, मृतक अपनी जान बचाने के लिए अंदर रखी फ्रिज में घुस गया. इसके बाद ग्रामीणों ने ताला तोड़कर मृतक को बाहर निकाला तो वह फ्रिज के अंदर ही मृत अवस्था में पाया गया. जिसे पोस्टमार्टम के लिए सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र खैरथल में लाया गया. मौके पर किशनगढ़ बास डीएसपी ताराचंद व खैरथल थाना अधिकारी दारा सिंह में पुलिस जाब्ते के मौजूद है. प्रथम मामले की गंभीरता से जांच कर रहे हैं.

परिजनों ने बताया कि मृतक अपनी नौकरी के पैसे लेने के लिए ठेकेदार के पास गया था. उसके बाद यह घटना घटित हुई. इधर, खैरथल थाना अधिकारी दारा सिंह ने बताया कि रविवार प्रातः सूचना मिली की क्षेत्र के गांव कुमपुर शराब के ठेके में आग लग गई है. जिसकी सूचना पर पुलिस मौके पर खैरथल थाना पुलिस पहुंची .

वहीं, मौके पर लोहे के कंटेनर में शराब का ठेका चलाया जा रहा था, जिसका गेट अंदर से बंद था. पुलिस ने ग्रामीणों के सहयोग से गेट तोड़कर अंदर  प्रवेश किया, जिसमें कमल किशोर सेल्समैन का जला हुआ शव मिला. जिसको पुलिस ने अपने कब्जे में लेकर कस्बे के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र भेजा गया. यहां डॉक्टरों की गठित टीम द्वारा पोस्टमार्टम कराकर शव परिजनों को सौंप दिया गया.

थाना अधिकारी ने बताया पुलिस ने धारा 302 व एससी/एसटी एक्ट में मामला दर्ज कर जांच प्रारंभ कर दी है. मामले की जांच डीएसपी ताराचंद किशनगढ़ बास के पास है. परिजनों ने रिपोर्ट में ठेकेदार पर आग लगाकर मारने का आरोप लगाया है.