close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

राष्ट्रीय एकता और अखंडता का संदेश आम जन तक पहुंचाएं युवा: अशोक गहलोत

महात्मा गांधी की 150वीं जयंती के तहत आयोजित 10 दिवसीय राष्ट्रीय एकता शिविर के समापन के अवसर पर उन्होंने ये बातें कही.

राष्ट्रीय एकता और अखंडता का संदेश आम जन तक पहुंचाएं युवा: अशोक गहलोत
गहलोत ने शांति-अहिंसा विभाग के स्थापना की बात कही. (फोटो साभार: twitter/ashokgehlot)

जयपुर: राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने सोमवार को युवाओं का आह्वान किया कि वे एकता व अखंडता के संदेश को जन जन तक पहुंचाएं. इसके साथ ही उन्होंने कहा कि महात्मा गांधी की 150वीं जयंती वर्ष के कार्यक्रम दो अक्तूबर के बाद भी अगले एक साल तक मनाए जाएंगे.

गहलोत जयपुर के निकट भानपुर कलां गांव में महात्मा गांधी की 150वीं जयंती के तहत आयोजित 10 दिवसीय राष्ट्रीय एकता शिविर के समापन के अवसर पर देश के विभिन्न राज्यों से आए नौजवानों को संबोधित कर रहे थे.

संदेश पहुंचाने की अपील की
मुख्यमंत्री ने शिविर में आए नौजवानों का आह्वान किया कि वे यहां से देश की एकता और अखंडता का जो संदेश लेकर जा रहे हैं उसे अपने-अपने प्रदेशों में नौजवानों तक पहुंचाएं. उन्होंने कहा कि ऐसे शिविरों में सीखी हुई बातें पूरे जीवन की पूंजी बन जाती हैं जिन्हें अपनाकर व्यक्ति सफलता प्राप्त करता है.

गांधीवादी विचारों को करे आत्मसात
उन्होंने कहा कि राष्ट्रपिता महात्मा गांधी का सत्य, अहिंसा, शांति और सादगी का संदेश जन-जन तक पहुंचे और वर्तमान पीढ़ी गांधीवादी विचारों को आत्मसात कर सके, इस उद्देश्य से गांधी के 150वें जयंती वर्ष के कार्यक्रम दो अक्टूबर के बाद भी अगले एक साल तक मनाए जाएंगे. इसके लिए गांधीवादी विचारों के प्रचार प्रसार में जुटी संस्थाओं से चर्चा की जाएगी.

शांति और अहिंसा विभाग की होगी स्थापना
मुख्यमंत्री ने कहा कि गांधी के शांति, सद्भाव, सहिष्णुता व अहिंसा के संदेश को आने वाली पीढ़ी तक पहुंचाने के मकसद से हमारी सरकार ने प्रदेश में शांति एवं अहिंसा विभाग स्थापित करने का सैद्धांतिक फैसला लिया है. शुरुआत में इसे प्रकोष्ठ के रूप में स्थापित कर धीरे-धीरे विभाग में तब्दील किया जाएगा.