रजनीकांत ने वायरल हो रही लीक चिट्ठी पर दी सफाई, राजनीति में आने को लेकर कही ये बात
X

रजनीकांत ने वायरल हो रही लीक चिट्ठी पर दी सफाई, राजनीति में आने को लेकर कही ये बात

रजनीकांत (Rajinikanth) ने ट्वीट कर वायरल हो रही चिट्ठी पर सफाई दी है और राजनीतिक रुख को लेकर भी जानकारी दी है.

रजनीकांत ने वायरल हो रही लीक चिट्ठी पर दी सफाई, राजनीति में आने को लेकर कही ये बात

चेन्नई: फिल्म अभिनेता रजनीकांत (Rajinikanth) ने कोरोना वायरस और बीमारी के कारण राजनीति छोड़ने की खबरों पर ब्रेक लगा दिया है. बता दें कि सोशल मीडिया पर रजनीकांत का एक लेटर वायरल हो रहा है, जिसमें दावा किया जा रहा है कि बीमारी के कारण उन्होंने राजनीति से दूरी बनाने का फैसला किया है.

जल्द देंगे राजनीतिक रुख की जानकारी
रजनीकांत ने वायरल हो रहे लेटर पर कहा है कि इसमें उनके स्वास्थ्य को लेकर कुछ जानकारियां सही है, बाकी सभी अफवाह हैं. उनका कहना है कि वह अपने पदाधिकारियों के साथ चर्चा करेंगे और अपने राजनीतिक रुख के बारे में लोगों को जल्द ही सूचित करेंगे.

वायरल हो रहे लेटर में किया गया ये दावा
बताया जा रहा है कि वायरल हो रहा लेटर है वह गलती से लीक हो गया है, जो रजनीकांत ने अपने करीबी सलाहकारों और शुभचिंतकों को भेजी थी. लेटर में दावा किया जा रहा है कि कोरोना वैक्सीन (Corona Vaccine) आने के बाद भी रजनीकांत की बाहरी गतिविधियों पर पाबंदी रह सकती है, क्योंकि वह कॉन्वालैसिंग किडनी ट्रांसप्लांट के मरीज हैं. लेटर में बताया गया है कि उनकी कमजोर इम्युनिटी के कारण रजनीकांत की बाहरी गतिविधियों पर रोक लगाई जा सकती है और डॉक्टर्स ने भी उन्हें ज्यादा से ज्यादा सावधानियां रखने के लिए कहा है.

रजनीकांत ने ट्वीट कर दी सफाई
लेटर वायरल होने के बाद रजनीकांत (Rajinikanth) ने ट्वीट कर सफाई दी और कहा, 'मेरा एक बयान सोशल मीडिया पर चल रहा है और मीडिया में भी दिखाई दे रहा है. सभी जानते हैं कि यह मेरा बयान नहीं है. हालांकि, उस बयान में मेरी स्वास्थ्य स्थिति और मुझे दी गई चिकित्सीय सलाह के बारे में कुछ विवरण सही है. मैं सही समय पर रजनी मक्कल मन्द्रम के पदाधिकारियों के साथ चर्चा करूंगा और लोगों को अपने राजनीतिक रुख के बारे में सूचित करूंगा.'

मार्च के बाद से नहीं आया था कोई बयान
मार्च में कोरोना वायरस के कारण लगाए गए लॉकडाउन के बाद से ही रजनीकांत का कोई बयान सामने नहीं आया था. मार्च में उन्होंने कहा था, 'हमें लोगों को बताने की जरूरत है, यह रजनी के लिए नहीं है. यह तमिलनाडु के लोगों के लिए है. मैं यहां 15-20 प्रतिशत वोट पाने के लिए नहीं हूं, यह मेरा एकमात्र मौका है. मैं 71 साल का हूं और 2026 में अगले चुनाव तक मैं 76 साल का हो जाऊंगा. एक बार जब मैसेज उन लोगों तक पहुंच जाएगा, जो आम लोग बदलाव चाहते हैं. यह देखने के बाद मैं राजनीति में आने की घोषणा करूंगा.'

LIVE टीवी

Trending news