close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

राज्यसभा के 41 सदस्यों ने 9 भाषाओं में ली शपथ, वैंकेया नायडू ने की गरिमा बनाए रखने की अपील

राज्यसभा की 58 सीटों के लिए हाल ही में हुए द्विवार्षिक चुनाव और एक सीट पर हुए उपचुनाव में निर्वाचित सदस्यों में से 42 सदस्यों को शपथ दिलाई गई थी. इनमें से बीजेपी के अरुण जेटली को छोड़कर शेष सभी सदस्यों ने शपथ ली. 

राज्यसभा के 41 सदस्यों ने 9 भाषाओं में ली शपथ, वैंकेया नायडू ने की गरिमा बनाए रखने की अपील
राज्यसभा से 40 सांसद हाल ही में सेवानिवृत्त हुए हैं. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

नई दिल्ली : राज्यसभा में मंगलवार (3 अप्रैल) को 41 सदस्यों ने उच्च सदन की सदस्यता की शपथ ली. इनमें से 18 सदस्य पुन:निर्वाचित हुए हैं. राज्यसभा की 58 सीटों के लिए हाल ही में हुए द्विवार्षिक चुनाव और एक सीट पर हुए उपचुनाव में निर्वाचित सदस्यों में से 42 सदस्यों को शपथ दिलाई गई थी. इनमें से बीजेपी के अरुण जेटली को छोड़कर शेष सभी सदस्यों ने शपथ ली. 

शपथ ग्रहण का सिलसिला तेलगू देशम पार्टी (तेदेपा) के सी एम रमेश से शुरू हुआ. रमेश ने अंग्रेजी में शपथ ग्रहण की. शपथ ग्रहण करने वालों में केन्द्रीय मंत्री जे पी नड्डा, थावर चंद गहलोत, धर्मेन्द्र प्रधान, प्रकाश जावड़ेकर और रविशंकर प्रसाद के अलावा राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के मनोज कुमार झा, कांग्रेस के अभिषेक मनु सिंघवी और जनता दल यूनाइटेड से बशिष्ठ नारायण सिंह शामिल हैं.

'जाने से पहले नहीं बोल पाए सांसद, इसके लिए हम सब जिम्मेदार'- राज्यसभा सांसदों की विदाई पर PM मोदी

41 सदस्यों ने 9 भारतीय भाषाओं में ली शपथ
सभापति एम वेंकैया नायडू ने बताया कि 41 सदस्यों ने नौ भारतीय भाषाओं में शपथ लेकर सदन में देश की भाषाई विविधता का उत्कृष्ट उदाहरण पेश किया है. मध्य प्रदेश से निर्वाचित सदस्य थावर चंद गहलोत ने संस्कृत में शपथ ली, जबकि आंध्र प्रदेश से निर्वाचित तेदेपा के कपकमेदाला रवीन्द्र कुमार ने तेलगू, गुजरात से निर्वाचित बीजेपी के पुरुषोत्तम रूपाला ने गुजराती, कर्नाटक से निर्वाचित बीजेपी के राजीव चंद्रशेखर ने कन्नड़ में, महाराष्ट्र से निर्वाचित राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) की वंदना चह्वाण और शिवसेना के अनिल देसाई ने मराठी में, उत्तर प्रदेश से निर्वाचित बीजेपी के जी वी एल नरसिम्हाराव ने तेलगू में, तृणमूल कांग्रेस के अधीर रंजन बिश्वास, सुभाशीष चक्रवर्ती और शांतनु सेन ने बांग्ला में और तृणमूल कांग्रेस के नदीमुल हक ने उर्दू में शपथ ग्रहण की.

झारखंड : विपक्षी एकजुटता को साधने बीजेपी बदल सकती है अपनी रणनीति

पैर में फ्रेक्चर के कारण खड़े नहीं हो पाए सरोज पांडे
इस दौरान छत्तीसगढ़ से निवार्चित बीजेपी की सदस्य सरोज पांडे के पैर में फ्रेक्चर होने के कारण सभापति ने उन्हें अपने स्थान से ही शपथ ग्रहण करने की अनुमति दी. इधर शपथ ग्रहण करने वाले सदस्यों के परिजनों की मौजूदगी के कारण उच्च सदन की दर्शक दीर्घा में भी आज खासी भीड़ थी.  

वैंकेया नायडू ने दी सदन की गरिमा बनाए रखने की नसीहत
नायडू ने शपथ ग्रहण करने वाले सदस्यों से सदन की कार्यवाही को सुचारू रूप से चलाने और सदन की गरिमा बनाए रखने में उनके बेहतर योगदान की अपेक्षा व्यक्त करते हुए उन्हें शुभकामनाए दी. उन्होंने बताया कि शपथ लेने वाले सदस्यों में से 18 सदस्य पुनर्निर्वाचित हुए हैं. सभी सदन की कार्यप्रणाली से अवगत हैं जबकि नए सदस्यों को इससे स्वयं को अवगत कराते हुए सदन की बेहतर पद्धतियों को अपनी कार्यसंस्कृति का हिस्सा बनाना होगा.