close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

राम माधव बोले, 200 अलगाववादी नेता होटल में नजरबंद, हर कश्मीरी राष्ट्र-विरोधी नहीं

माधव ने कहा कि पिछले दो महीनों में सुरक्षा बलों की वजह से राज्य में एक भी हताहत नहीं हुआ है.

राम माधव बोले, 200 अलगाववादी नेता होटल में नजरबंद, हर कश्मीरी राष्ट्र-विरोधी नहीं
बीजेपी नेता ने माना कि कश्मीर घाटी में कुछ मुद्दे हैं. उनका ध्यान रखा जाएगा.

नई दिल्ली: भारतीय जनता पार्टी (BJP) के राष्ट्रीय महासचिव राम माधव (Ram Madhav) ने शुक्रवार को कहा कि अब जम्मू और कश्मीर भारत का अभिन्न अंग बन गया है. यह देश के किसी भी अन्य राज्य की तरह है. दो केंद्र शासित प्रदेश बनाए गए हैं. लद्दाखी बहुत खुश हैं, वे बहुत आनंदित हैं क्योंकि यह उनके लिए लंबे समय से लंबित मांग थी. बीजेपी नेता ने माना कि कश्मीर घाटी में कुछ मुद्दे हैं. उनका ध्यान रखा जाएगा, उन्हें पूरी संवेदनशीलता के साथ निपटाया जाएगा.

बीजेपी नेता ने राष्ट्रीय एकता अभियान को संबोधित करते हुए कहा, ''हर कश्मीरी राष्ट्र-विरोधी नहीं है और हर कश्मीरी अलगाववादी नहीं है. वे आपके और मेरे जैसे हैं. हमने ऐसा किया (अनुच्छेद 370 का हटाया) क्योंकि हम जम्मू और कश्मीर के लोगों को विकास के अधिकार, राजनीतिक अधिकार और गरिमापूर्ण जीवन का अधिकार देना चाहते थे.''

 देखें- LIVE TV

एक भी हताहत नहीं हुआ
माधव ने कहा कि पिछले दो महीनों में सुरक्षा बलों की वजह से राज्य में एक भी हताहत नहीं हुआ है. इस अनुच्छेद 370 हटाने के फैसले  की प्रभावशीलता के बारे में कश्मीर के लोगों को समझाने का प्रयास जल्द ही किया जाएगा. उन्होंने कहा कि पहले से ही कश्मीर के लोगों के एक बड़े हिस्से ने इसकी सराहना करना शुरू कर दिया है.

200 नेता नजरबंद
राम माधव ने कहा कि राज्य में 200 से अधिक नेताओं को नजरबंद रखा गया है. उन्हें पांच सितारा होटलों में नजरबंद किया गया है. यह राज्य में कानून और व्यवस्था सुनिश्चित करने के लिए एक अस्थायी उपाय है. दो महीने के लिए जेल में बंद 200 लोग और पूरा राज्य शांतिपूर्ण है.

बता दें कि केंद्र सरकार ने 5 अगस्त को अनुच्छेद 370 के प्रावधान को खत्म कर दिया था, जिसने जम्मू-कश्मीर के लोगों को प्राप्त विशेष अधिकारों को छीन लिया और राज्य को दो केंद्र शासित प्रदेशों - जम्मू और कश्मीर और लद्दाख में विभाजित कर दिया.