रामजस कॉलेज विवाद: ABVP ने लेफ्ट छात्र संगठनों के खिलाफ 'सेव डीयू' मार्च

दिल्ली यूनिवर्सिटी के रामजस कॉलेज में बीते दिनों हुई हिंसा के बाद शुरू हुआ विवाद थमता नहीं दिख रहा है। डीयू के नॉर्थ कैंपस में एबीवीपी ने सेव डीयू' मार्च निकाला। बता दें कि मंगलवार को वामपंथी संगठनों ने एबीवीपी के खिलाफ इसी तरह का प्रदर्शन किया था। इस विरोध प्रदर्शन के मद्देनजर डीयू कैंपस में अर्धसैनिक बल तैनात किए गए हैं। मार्च के पूरे रूट पर पुलिस की भारी तैनाती है। छात्रों को कानून ना तोड़ने की सख्त हिदायत दी गई है।

रामजस कॉलेज विवाद: ABVP ने लेफ्ट छात्र संगठनों के खिलाफ 'सेव डीयू' मार्च
फोटो सौजन्‍य: एएनआई ट्वीटर

नई दिल्‍ली : दिल्ली यूनिवर्सिटी के रामजस कॉलेज में बीते दिनों हुई हिंसा के बाद शुरू हुआ विवाद थमता नहीं दिख रहा है। डीयू के नॉर्थ कैंपस में एबीवीपी ने सेव डीयू' मार्च निकाला। बता दें कि मंगलवार को वामपंथी संगठनों ने एबीवीपी के खिलाफ इसी तरह का प्रदर्शन किया था। इस विरोध प्रदर्शन के मद्देनजर डीयू कैंपस में अर्धसैनिक बल तैनात किए गए हैं। मार्च के पूरे रूट पर पुलिस की भारी तैनाती है। छात्रों को कानून न तोड़ने की सख्‍त हिदायत दी गई है।

लेफ्ट छात्र संगठनों की ओर से बीते दिनों निकाले गए मार्च के जवाब में एबीवीपी ने आज 'सेव डीयू' मार्च निकाला। यह मार्च दिल्ली विश्वविद्यालय के आर्ट्स फैकल्टी से शुरू हुआ। एबीवीपी का कहना है कि कैंपस से लेफ्ट छात्र संघ बाहर किए जाने चाहिए। एबीवीपी के राष्ट्रीय मीडिया संयोजक साकेत बहुगुणा के अनुसार, यह मार्च केवल एबीवीपी का नहीं है बल्कि आम छात्रों का है।

इससे पहले, एबीवीपी ने दावा किया था कि दिल्ली विश्वविद्यालय के रामजस कालेज में हाल की हिंसा बाहरियों के उकसावे का परिणाम है और ‘राष्ट्र विरोधी’ तत्वों ने इसका दोष हमारे ऊपर मढ़ने का काम किया। एबीवीपी ने कैम्पस में बाहरी लोगों के प्रवेश एवं माहौल खराब करने के प्रयास के खिलाफ विरोध प्रदर्शन का आह्वान किया था। ज्ञात हो कि एबीवीपी कार्यकर्ताओं ने शहीद की बेटी गुरमेहर कौर को धमकी देने वाले लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराने के लिए पुलिस से संपर्क भी किया।

दिल्ली यूनिवर्सिटी के सैकड़ों छात्रों और शिक्षकों ने एबीवीपी के खिलाफ भी विरोध मार्च निकाला था। हालांकि, इस पूरे मामले से सुखिर्यों में आईं गुरमेहर कौर ने एबीवीपी के खिलाफ मार्च से खुद को अलग कर लिया था। रामजस कॉलेज में पिछले दिनों एबीवीपी की ओर से एक सेमिनार जबरन रद्द कराने और कथित तौर पर छात्रों एवं शिक्षकों की पिटाई करने का विरोध करने पर गुरमेहर को सोशल मीडिया पर बलात्कार की धमकियां मिली थीं। रामजस कालेज में पिछले सप्ताह आइसा और एबीवीपी के सदस्यों के बीच हिंसक झड़प सामने आई थी, जिसके बाद ये विवाद काफी बढ़ गया।