रेप मामले में देशभर में गुस्सा, हरकत में आई सरकार; कानून मंत्री बोले- 2 महीने में पूरी हो जांच

केंद्रीय और राज्य सरकार ने 1023 नए फास्ट ट्रैक कोर्ट के गठन का प्रस्ताव रखा है.

रेप मामले में देशभर में गुस्सा, हरकत में आई सरकार; कानून मंत्री बोले- 2 महीने में पूरी हो जांच
रेप की घटनाओं के बाद केंद्र सरकार हरकत में आ गई है.

नई दिल्ली: हैदराबाद में महिला डॉक्टर की गैंगरेप के बाद हत्या और उन्नाव में दुष्कर्म पीड़िता को जलाकर मार देने की घटनाओं के बाद केंद्र सरकार हरकत में आ गई है. केंद्रीय कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद (Ravi Shankar Prasad) ने कहा है कि वह सभी राज्यों के मुख्यमंत्रियों और उच्च न्याययलयों के मुख्य न्यायाधीशों को पत्र लिखने जा रहा हूं कि नाबालिगों से बलात्कार के मामलों की जांच 2 महीने के भीतर पूरी हो.

प्रसाद ने कहा कि नाबालिगों से दुष्कर्म मामले में दो माह के भीतर जांच पूरी होनी चाहिए. इस संबंध में उन्होंने अपने विभाग को भी आवश्यक दिशा-निर्देश जारी कर दिए हैं.

देश के कानून मंत्री ने बताया कि केंद्रीय और राज्य सरकार ने देश भर में 1023 नए फास्ट ट्रैक कोर्ट के गठन का प्रस्ताव रखा है. इनमें से 400 पर आम सहमति बन गई है और 160 से अधिक पहले ही चालू हो गए हैं. इसके अलावा 704 फास्ट ट्रैक कोर्ट पहले से ही चालू हैं.

देखें- LIVE TV